सेना ने वानी के करीबी जीनत-उल-इस्लाम को किया ढेर

कुलगाम ,काटापोरा गांव में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने आतंकी जीनत उल इस्लाम सहित दो आतंकी ढेर कर दिए हैं। जीनत हिज्बुल का कमांडर था। मरने वालों में एक और आतंकी शकील अहमद शामिल हैं। आतंकी जीनतउल इस्लाम बुरहान वानी का करीबी था। जिसको सेना ने 2017 में मोस्ट वांटेड आतंकियों की सूची में शामिल किया था। जीनतउल इस्लाम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें वो बिरयानी खाता दिखाई दे रहा था।एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के काटपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर शाम को सुरक्षा बलों ने वहां घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया। सेना ने 12 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की थी। जीनत उल इस्लाम के एनकाउंटर के बाद अब इस लिस्ट में सिर्फ रियाज नायकू और जाकिर मुसा ही बचे हैं। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल के जवान जब तलाशी अभियान चला रहे थे तभी आतंकवादियों की ओर से उन पर गोलीबारी की गई। सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की और इसमें दो आतंकवादी मारे गए। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार एवं गोला बारूद बरामद हुआ है। जीनत उल इस्लाम घाटी में सक्रिय सबसे पुराना आतंकी था। आतंकी संगठन अल बद्र का कमांडर जीनत-उल-इस्लाम पर सेना ने 12 लाख का ईनाम घोषित किया था। जीनत बारुदी सुरंग बनाने का एक्सपर्ट जीनत 2015 में आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से जुड़ा था। लश्कर कमांडर आतंकी बुरहान वानी का करीबी था, इसके साथ ही हिज्बुल मुजाहिद्दीन में भी रह चुका था।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *