नक्सलिसों ने दो पूर्व नक्सलियों और पेटी ठेकेदार का गला रेता

दंतेवाड़ा,छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में नक्सलियों ने दो बड़ी वारदातों को अंजाम दिया है। शहीदी सप्ताह मना रहे नक्सलियों ने बस्तर के दरभा में दो सहायक सिपाहियों (आत्म समर्पण करने वाले नक्सलियों) की गला रेत कर हत्या कर दी है। जबकि, बुधवार सुबह कामालूर रेलवे स्टेशन के पास पेटी ठेकेदार का गला रेत दिया था।
पुलिस ने बताया कि बुधवार सुबह करीब नौ बजे जिंदल कंपनी की सर्वे टीम-एक के पेटी कांट्रेक्टर गणेश नायडू किसी काम से कामालूर रेलवे स्टेशन आए थे। नक्सलियों ने उन्हें पकड़कर उनके बोलेरो वाहन को जला दिया। वाहन में मौजूद अन्य लोगों को क्षेत्र में फिर न आने की चेतावनी देकर भगा दिया। इसके बाद गणेश की गला रेत कर हत्या कर दी।
वारदात स्थल पर नक्सलियों ने भैरमगढ़ एरिया कमेटी के नाम से एक पर्चा पेड़ पर व दूसरा शव के पास फेंका है, जिसमें लिखा है कि खदान की खोदाई रोकने के लिए ठेकेदारों को पूर्व में चेतावनी दी जा चुकी है, लेकिन नायडू ने बात नहीं मानी।
इसलिए उसे मौत की सजा दी जा रही है। नक्सलियों के घात लगातार बैठे रहने और सुरक्षा के चलते फोर्स शाम को वारदात स्थल पर पहुंच पाई। दूसरी ओर बस्तर जिले के दरभा क्षेत्र के पखनार थाने से करीब आधा किमी दूर मंगलवार देर शाम हथियारबंद नक्सलियों ने दो सहायक सिपाहियों भीमा राम व जलनू बघेल की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। दोनों कुकड़ा घाली (मुर्गा बाजार) गए थे। नक्सलियों के स्माल एक्शन ग्रुप ने वारदात को अंजाम दिया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *