जुलाई से सितंबर की तिमाही में घरों की बिक्री में 24 % इजाफा

नई दिल्ली,देश के नौ प्रमुख संपत्ति बाजारों में जुलाई से सितंबर की तिमाही के दौरान घरों की बिक्री में 24 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। हालांकि, इस दौरान नए घरों के लॉन्च में 35 फीसदी की गिरावट आई है। इस ताजा ट्रेंड से नहीं बिकने वाले फ्लैटों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक जुलाई से सितंबर 2018 के दौरान 72,472 घरों की बिक्री हुई, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में 58,470 घरों की बिक्री हुई थी। दूसरी तिमाही में नए फ्लैट्स की संख्या घटकर 35,836 इकाई रह गई, जो एक साल पहले की इसी अवधि में 54,170 यूनिट्स थी। इससे इनवेंटरी यानी नहीं बिकने वाले फ्लैट्स क संख्या 11 फीसदी कम होकर 7,80,424 इकाई रह गई। इस रिपोर्ट में अहमदाबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, गुड़गांव (भिवाड़ी, धारूहेड़ा और सोहना को लेकर), हैदराबाद, कोलकाता, मुंबई (नवी मुंबई और ठाणे को मिलाकर), नोएडा (ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे सहित) और पुणे जैसे मार्केट्स को कवर किया गया है।
बाजार विशेषज्ञों के अनुसार नए लॉन्च में कमी के साथ बिक्री बढ़ना उद्योग के लिए अच्छी खबर है। इनवेंटरी में आई कमी का मतलब है कि अगले एक साल में इस क्षेत्र में गतिविधियां बढ़ेगी। इससे आने वाले समय में प्रॉपर्टी के दाम भी बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं। कंपनी के मुख्य निवेश अधिकारी अंकुर धवन ने कहा कि नए घरों की संख्या में आई कमी का मतलब है कि डेवेलपर्स प्रोजेक्ट्स लॉन्च करने की जगह मौजूदा प्रोजेक्ट्स को पूरा करने पर ध्यान दे रहे हैं। नोएडा में घरों की बिक्री सबसे ज्यादा 59 फीसदी बढ़कर 6,652 इकाई रही, जबकि यहां नए लॉन्च 33 फीसदी गिरावट के साथ 1,617 इकाई रहे। ज्यादा बिक्री और नए लॉन्चिंग में कमी से बिके हुए घरों की संख्या 69,953 इकाई रह गई। मुंबई मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र में घरों की बिक्री 22 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 22,969 इकाई रही। पुणे में बिक्री 50 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 13,833 यूनिट्स और बेंगलुरु में 27 फीसदी बढ़कर 9,367 इकाई रही। चेन्नई में 54 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 4,781 इकाईयों की बिक्री हुई। हैदराबाद में 49 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 5,577 इकाइयों की बिक्री हुई। कोलकाता में 6 फीसदी वृद्धि के साथ 3,915 अपार्टमेंट्स की बिक्री हुई।गुड़गांव और अहमदबाद में घरों की बिक्री में गिरावट देखने को मिली है। गुड़गांव में घरों की बिक्री 43 फीसदी घटकर 3,332 यूनिट रह गई, जबकि अहमदाबाद में यह 15 फीसदी घटकर 2,047 इकाई तक पहुंच गई है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *