एसडीएम-तहसीलदार बंद कमरे में लड़कियों के साथ,ASI निलंबित

जबलपुर,एसडीएम और तहसीलदार बंद कमरे में पकडे गये यह खबर दिन भर सोशल मीडिया पर छाई रही। खबर यह थी कि बीती रात धनवतंरी नगर जसूजा सिटी कालोनी के एक मकान में जिले के पदस्थ एक एसडीएम और तहसीलदर दो लड़कियों के साथ रंगरेलियां मनाते पकडे गये। पकडी गई लडकियों में एक जबलपुर की थी। जबकि दूसरी सतना की रहने वाली बताई जा रही है। धनवंतरी नगर चौकी की पुलिस चारों को रात में ही चौकी ले आई थी। परन्तु बाद में पूछताछ के बाद सभी को जाने दिया गया। कोई मामला दर्ज नहीं किया गया।
धनवंतरी नगर चौकी प्रभारी निकिता शुक्ला ने बताया कि अपने को पत्रकार बताने वाले कुछ युवक गत रात्रि चौकी में आये थे। उन्होंने सूचना दी थी कि जसूजा सिटी के समीप एक मकान में अनैतिक कार्य हो रहा है। सूचना पर पुलिस ने दबिश दी ते ऐसा कुछ नहीं मिला। दो युवतियां सड़क में घूमते हुये मिली थी, जिन्हें पूछताछ के लिये चौकी लाया गया। उन्होंने बताया कि वह पढाई करती है और सिर्फ घूमने के लिये घर से निकली थी।
प्रशासन में मचा हड़कम्प
इस खबर से पुलिस व जिला प्रशासन में हडकम्प की स्थिति बनी हुई थी। जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने व्यक्तिगत रूप से चौकी प्रभारी से घटना की जानकारी प्राप्त की। यह चर्चा भी सरगर्म है कि खुद को कथित पत्रकार बताने वाले के संरक्षण के कारण क्षेत्र में अनैतिक कार्य चल रहे थे। चौकी पुलिस ने जब से ड्यूटी ज्वाइन की थी तभी से सब अनैतिक कार्यों को बंद करवा दिया था। महिला चौकी प्रभारी को फंसाने के लिये कथित पत्रकारों ने षड़यंत्र के तहत झूठी जानकारी दी थी। प्रशासनिक अधिकारियों के नाम आने पर उनके खिलाफ विभागीय स्तर पर कार्यवाही हो जाये।
फर्जी पत्रकारों ने रची साजिश
जानकारी के मुताबिक शहर में फर्जी पत्रकारों का एक गैंग सक्रिय है, जो इस तरह बडे अफसरों और रसूखदार लोगों को फंसा कर रूपये ऐंठने का काम करता है। इस घटना के पीछे भी इसी गैंग का हाथ है। लड़कियां उन्ही ने बुलवाई थी, पीछे से पुलिस और कई फर्जी पत्रकार मौके पर पहुंच कर सौदेबाजी करने लगे।
चौकी प्रभारी को फंसाना चाहते थे
धनवंतरी नगर पुलिस चौकी में जब से नए प्रभारी निकिता शुक्ला पदस्थ हुई है तब से पुलिस और फर्जी पत्रकार गैंग की सांठगांठ पर अंकुश लग गया है। बताया ज रहा है कि चौकी प्रभारी को आला अफसरों के सामने नीचा दिखाने के लिये कथित पत्रकारों ने यह ब्यू रचना रची।
एएसआई निलंबित
पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने पूरे घटनाक्रम को गंभीरता से लेते हुये जांच के आदेश दे दिये है। ज्ञात हुआ है कि फर्जी पत्रकारों की साजिश में शामिल एएसआई गोंटिया को निलंबित कर दिया गया है।

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *