नितिन पटेल के सामने झुकी भाजपा सौंपा वित्त विभाग

अहमदाबाद, मनचाहा विभाग नहीं मिलने से पिछले तीन दिनों से नाराज चल रहे उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मना लिया. वित्त विभाग दिए जाने के आश्वासन के बाद नितिन पटेल की नाराजगी खत्म हो गई.
अमित शाह से फोन पर हुई बातचीत के बाद नितिन पटेल ने पत्रकार परिषद की. जिसमें नितिन पटेल ने कहा कि विभागों का आंवटन संबंधित नेता के पद को ध्यान में रखकर किया जाता है, लेकिन इस बार मेरे पुराने विभाग के बजाए अन्य विभागों की जिम्मेदारी सौंपी गई थी. बकौल नितिन पटेल मैं अपने पद के अनुरूप विभाग चाहता था. यह भावना मैंने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और पार्टी हाईकमांड के समक्ष व्यक्त की थी. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से कहा कि मुझे मेरे पद के अनुरूप विभाग मिलना चाहिए और यह संभव नहीं है तो मुझे मंत्रिमंडल से मुक्त किया जाए. शीर्ष नेतृत्व ने परामर्श किया और मेरी भावनाओं की कद्र करते हुए मझे वित्त विभाग की जिम्मेदारी सौंपने का भरोसा दिया है. नितिन पटेल ने कहा कि आज सुबह 7.30 बजे अमित शाह ने आश्वासन दिया कि मुझे पद के अनुरूप विभाग आवंटित किया जाएगा. पटेल ने कहा कि वे आज से ही अपना कार्यभार संभाल लेंगे. आज ही मुख्यमंत्री विजय रूपाणी राज्यपाल ओपी कोहली को मुझे नया विभाग सौंपे जाने के बारे में पत्र देंगे.
नितिन पटेल ने कहा कि कल शाम को भूपेन्द्रसिंह चूडास्मा, प्रदीपसिंह जाडेजा के साथ बाबूभाई पटेल के निवास पर बैठक की थी. वी सतीश के साथ भी विचार विमर्श किया था. अमित शाह समेत अन्य बड़े नेताओं के साथ मुलाकात कर अपनी भावना व्यक्त की थी. जिसका अमित शाह और पीएम मोदी ने सम्मान करते हुए आश्वासन दिया है| जिसके लिए पार्टी का आभारी हूं| मैंने किसी विभाग की मांग नहीं की थी और न ही मैंने किसी को अपने अहमदाबाद स्थित निवास पर बुलाया था. शनिवार को 4-5 हजार लोग स्वयं आए थे और उसके लिए मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं| मेरी बात किसी सत्ता या पद के नहीं थी, बल्कि सम्मान की थी. उन्होंने कहा कि शनिवार को कांग्रेस ने मौके का फायदा उठाने की कोशिश और मुझे प्रस्ताव भी दिया| उन्होंने कहा कि मैं विपरीत स्थिति में भी भाजपा के साथ था और हमेशा रहूंगा. मैं किसी भी सूरत में भाजपा नहीं छोड़ूंगा. मैंने सत्ता को कभी भी प्राथमिकता नहीं दी.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *