महिला सशक्तिकरण से ही सामाजिक व आर्थिक विकास संभव

देहरादून,राज्यपाल डाॅ. कृष्ण कांत पाल ने कहा कि देश व समाज का विकास महिला सशक्तिकरण से ही सम्भव है। सामाजिक व आर्थिक प्रगति के लिए महिला शिक्षा को प्रोत्साहित करना जरूरी है। वह शुक्रवार को कार्यक्रम ‘‘उत्तराखण्ड की बेटियां’’ में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। कार्यक्रम में राज्यपाल ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया।
राज्यपाल ने सम्मानित की गई महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि वे सभी युवाओं के लिए रोल माॅडल हैं। उनकी सफलता दूसरों के लिए पे्ररणा है। उत्तराखण्ड में महिला सशक्तिकरण की परम्परा है। साक्षरता में राज्य की स्थिति दूसरे राज्यों की तुलना में बेहतर हैै। परंतु पर्वतीय क्षेत्रों में महिला स्वास्थ्य में सुधार पर विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। राज्य सरकार इस पर गम्भीरता से काम भी कर रही है। टेली मेडिसिन सहित कई पहलें की गई हैं। जन जागरूकता के लिए आधुनिक तकनीक का उपयोग किया जाना चाहिए।
कार्यक्रम में बसंती देवी बिष्ट, वीआर गार्डनर, काॅलिन गैंट्जर, वंदना शिवा, अद्वैता काला, रोशन दलाल, ज्योत्सना बरार, स्वीटी वालिया, राकेश धवन, अंजलि नौरियाल, अनुपमा जोशी, श्रुति पंवार, सिल्की जैन, अनुराधा मल्ला, बीना भट्ट, गगन मान, रजनी डोरिस जोन, रश्मि शर्मा, रेनु डी सिंह, तानिया शैली बक्शी, ज्योत्सना नुपुर कर्णवाल, नम्रता राय, हेमलता बगड़वाल गुप्ता, मीनाक्षी, ईला पंजवानी, रानु बिष्ट, डाॅ. आरती लुथरा, संगीता कालरा, सोहनी जुनेजा, सोनिया आनंद, डाॅ. अल्का आहुजा, नगमा फारूख, किरण भट्ट, समानिका सिंह व हर्षवंति बिष्ट को सम्मानित किया गया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *