प्रद्युम्न केस: तोहफे ले कर पहुंचे आरोपी छात्र के परिजन

नई दिल्ली,प्रद्युम्न हत्याकांड में आब्जर्वेशन होम में रह रहे किशोर से भी उसके परिजन मिलने पहुंचे। किशोर की अपने परिजनों से मुलाकात आब्जर्वेशन होम के स्टाफ के सामने ही हुई। परिजन उसके कपड़े लेकर आए थे। किशोर ने अपने कोर्स की किताबें भी मांगी थी ताकि वह अपनी पढ़ाई जारी रख सके। मगर परिजन मंगलवार को किताबें लेकर नहीं आए थे। रायन स्कूल की 11वीं कक्षा का छात्र कॉमर्स स्ट्रीम से पढ़ाई कर रहा है। आब्जर्वेशन होम के अधीक्षक दिनेश यादव के अनुसार, किशोर के माता-पिता के अलावा उसके चाचा व बुआ भी मिलने आए थे। वे लोग करीब 12.05 मिनट पर आब्जर्वेशन होम पहुंचे। कागजी कार्रवाई के बाद उनकी मुलाकात 20 मिनट ही हो पाई और 12.30 बजे वे लोग वापस लौट गए। इस दौरान उन्होंने बच्चे को कपड़े दिए। अधीक्षक दिनेश यादव ने बताया कि सीबीआई की हिदायत है कि बच्चे की उसके परिजनों से मुलाकात उनकी निगरानी में हो तो उस दौरान उनका स्टाफ भी वहां मौजूद था। उन्होंने कहा कि बच्चे ने अपने कोर्स की किताबें मंगवाई थीं, मगर आज उसके परिजन किताबें लेकर नहीं आए थे। संभवतया अगली बार जब वे आएंगे तो किताबें ले आएंगे, जोकि बच्चे को उपलब्ध करवा दी जाएंगी। मंगलवार को बाल दिवस के अवसर पर आब्जर्वेशन होम में प्रार्थना सभा सहित बच्चों द्वारा कई कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए थे। इस दौरान किशोर ने किसी कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लिया, बल्कि अन्य बच्चों के साथ प्रांगण में बैठकर कार्यक्रम जरूर देखा। प्रद्युम्न हत्याकांड में आब्जर्वेशन होम में बंद किशोर पूरी तरह सामान्य है। सोमवार शाम को उसने अन्य बच्चों के साथ वहां बैडमिंटन खेला था और नियमित रूप से योग, प्रार्थना सभा, पीटी व परेड में हिस्सा ले रहा है। सोमवार को गुरुग्राम से आई काउंसलर ने करीब एक घंटे तक उसकी काउंसलिंग की। इस दौरान भी उसका व्यवहार सामान्य था।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *