गुजरात चुनाव के चलते संसद सत्र में विलंब तुगलकी निर्णय : कांग्रेस

नई दिल्ली,गुजरात विधानसभा चुनाव के कारण संसद के शीतकालीन सत्र में विलंब पर कांग्रेस ने भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस ने कहा कि संसद सत्र में किया जा रहा अनावश्यक विलंब ‘तुगलकी निर्णय’ है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि संसद सत्र में विलंब इस लिए किया जा रहा है, क्योंकि भाजपा नहीं चाहती कि भ्रष्टाचार और अन्य मुद्दों पर विपक्षी दल उस पर दबाव बनाएं।
कांग्रेस ने भरोसा जताया गुजरात में पार्टी के पक्ष में ‘‘आश्चर्यजनक परिणाम’’ आयेंगे, जहां भाजपा दो दशक से अधिक समय से सत्ता में है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने सवाल किया कि क्या आप पहली बार गुजरात में चुनाव करवा रहे हैं। अचानक गुजरात चुनाव सरकार के लिए इतना महत्वपूर्ण क्यों हो गया है। उन्होंने कहा कि यह तुगलकी निर्णय है।
सिंघवी ने कहा संसद सत्र के दौरान राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा होती है। उन्होंने पूछा अगर इसमें देरी होती है तो इसका किसे फायदा मिलेगा। कांग्रेस नेता ने कहा संसद सत्र में अगर विलंब होता है तो इसका निश्चित तौर पर फायदा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बेटे शौर्य को मिलेगा। विपक्ष इन मसलों को संसद के शीतकालीन सत्र में उठाएगा, जबकि भाजपा ऐसा नहीं चाहती।
उन्होंने कहा इस सत्र में राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा होगी। सत्र देरी से उन लोगों को फायदा होगा जो चर्चा करना नहीं चाहते हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ने आश्चर्य जताया यह किस प्रकार का ‘‘नया माडल’’ है, जहां संसद सत्र देर से बुलाया जा रहा है। सिंघवी ने चिंता जताई कि ‘‘माडल’’ किसी राज्य में चुनाव के कारण संसद में देरी करने की एक नजीर बनेगा। गुजरात चुनाव से पहले सर्वेक्षण कराये जाने के बारे में पूछने पर सिंघवी ने कहा उनकी पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण में यह संकेत मिलता है कि वहां आश्चर्यजनक नतीजे सामने आएंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *