2 दिन सड़कों से नदारद रहेंगे 93 लाख ट्रक

नई दिल्ली,जीएसटी और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ देशभर के ट्रांसपोर्टर हड़ताल पर जा रहे हैं। 9 से 10 अक्टूबर तक ट्रक देशव्यापी हड़ताल पर रहेंगे। 9 अक्टूबर को सुबह 8 बजे से सड़कों से लाखों ट्रक नदारद रहेंगे। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) ने इस हड़ताल का ऐलान किया है। संगठन के अध्यक्ष एसके मित्तल और उपाध्यक्ष हरीश सभरवाल के अनुसार, जीएसटी में ट्रांसपोर्टरों के रजिस्ट्रेशन को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। उन्होंने दावा किया कि देश के करीब 93 लाख ट्रक ऑपरेटर और करीब 50 लाख बस और टूरिस्ट ऑपरेटर्स इस हड़ताल के समर्थन में हैं। सरकार डीज़ल की कीमतों में बड़ी कटौती करें। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में काफी कमी है, लेकिन सरकार यहां डीजल कीमतों में कटौती नहीं कर रही है। हमारी मांग है कि डीजल की कीमतों में 20 रुपये प्रति लीटर तक कटौती की जाए। चालकों और ट्रांसपोर्ट संगठनों ने सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया और नए अप्रत्यक्ष कर के तहत डीजल को लाने की मांग की। ट्रासपोर्ट एसोसिएशनों का कहना है कि जीएसटी से ट्रांसपोर्ट उद्योग बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। टोल चार्जेस में बढ़ोतरी हो रही है। अनुमान है ‎कि इस हड़ताल से 5 हजार करोड़ का नुकसान होगा। ट्रांसपोर्ट संगठन देशव्यापी सेवा दे रहे हैं। देश में 93 लाख ट्रक और 50 लाख बसें सेवारत हैं। ये संगठन 20 लाख लोगों को रोजगार देते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *