जल सत्याग्रह कर सरदार सरोवर भरने का विरोध जताया

Featured Posts

भोपाल में कोरोना मरीज ने चिरायु हॉस्पिटल की पॉचवी मंजिल से छलांग लगाकर की आत्महत्या

भोपाल, राजधानी भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती एक 45 साल के कोरोना संक्रमित मरीज ने मंगलवार सुबह अस्पताल की ...

Read More

भोपाल में 10 मई तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

भोपाल, भोपाल जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए और आम नागरिकों को कोरोना संक्रमण से बचाव ...

Read More

सांसद प्रज्ञा सिंह के बंगले पर सभी लोग निकले कोरोना पाजिटिव

भोपाल, भोपाल लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बंगले पर सभी लोग कोरोना पाजिटिव हो गए है। ...

Read More

भोपाल में 6000 सैंपल की जांच में सामने आए 1753 कोरोना मरीज

  भोपाल, राजधानी में गुरुवार को 1753 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। ये मरीज 6000 सैंपल की जांच में सामने आए ...

Read More

हमीदिया से रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी के मामले में चौरसिया हटे डॉ. लोकेंद्र दवे को मिली अधीक्षक की कमान

भोपाल, हमीदिया अस्पताल से रेमडेसिविर इंजेक्शन के 863 डोज चोरी मामले में सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए अधीक्षक डॉ. ...

Read More

बड़वानी,सरदार सरोवर बांध को भरने का यहाँ विरोध शुरू हो गया है.एनबीए कार्यकर्ता ने कहा गांधीजी के अस्थि कलश और विस्थापन को लेकर आंदोलन बडवानी धार ही नहीं पुरे देश में शुरू कर दिया गया है. डूब प्रभावित ने जल सत्याग्रह कर सरकार को चेतावनी दे दी है की स्थाई पुनर्वास नहीं होने और सुविधाए मुहय्या नहीं होने तक डूब प्रभावित क्षेत्र को नहीं छोडेंगे. वही एनबीए कार्यकर्ता अमूल्य ने बताया की सरकार और प्रशासन बापू की अस्थि कलश और विस्थापन के मुद्दे को लेकर ये न समझे की आंदोलन सिर्फ दो जिले बडवानी और धार तक ही सिमित नहीं है इन मामलों में आंदोलन अब पुरे देश में शुरू हो गए है.इसके आलावा तमिलनाडु चेन्नई सहित कई प्रदेशो में सामाजिक संघठन इन मुद्दों को लेकर कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे है साथ ही अमूल्य ने यह भी बताया की 31 जुलाई के बाद गाँव खाली कराने के लिए पुलिस बल का प्रयोग नहीं करने के निर्देश भी कोर्ट ने दिए है एसा करने पर कोर्ट की अवमानना होगी वही जल सत्याग्रह करने वालो के बिच एक कुत्ता भी आकर बैठ गया जिसके बाद डूब प्रभावितों ने सरकार और प्रशासन पर व्यंग कसते हुए कहा की जानवर भी विस्थापितों का दर्द समझकर उनके साथ जल सत्याग्रह में शामिल हो गया लेकिन सरकार और प्रशासन विस्थापितों की वेदना समझने को तैयार नहीं है.

उधर, नई दिल्ली में रविवार को मध्यप्रदेश के बड़वानी में सरदार सरोवर की डूब में आई  गांधी जी एवं  कस्तूरबा गांधी की समाधि को अन्यंत्र पहुंचाने के विरोध में युवा कांग्रेस ने प्रार्थना सभा का आयोजन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *