कुपवाड़ा में सेना पर हमला कैप्टन सहित तीन शहीद, दो आतंकी भी मारे गए

श्रीनगर,जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा के पंजगाम सेक्टर में आर्मी बेस पर हुए आतंकी हमले में एक कैप्टन,एक जेसीओ और एक जवान शहीद हो गए। वहीं सुरक्षाबलों ने जबावी कार्रवाई में दो आतंकी मार गिराए। आतंकियों ने सुबह करीब सवा पांच बजे के आसपास एलओसी के पास कुपवाड़ा के पंजगाम में आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश की। घायल जवानों को एयरलिफ्ट कर श्रीनगर लाया गया है। घायल जवानों का इलाज श्रीनगर आर्मी अस्पताल में किया जा रहा है।
बताया जा रहा हैं कि जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के पंजगाम में गुरुवार तड़के आतंकियों ने सेना के कैंप पर उड़ी की तर्ज पर हमला बोला। भारी हथियारों से लैस आतंकियों ने इस बार सेना के आर्टिलरी बेस को निशाना बनाया। इस हमले में कैप्टन समेत सेना के तीन जवान शहीद हुए हैं और पांच से छह जवानों के घायल हो गए।आतंकियों ने चौकीबल स्थित पंजगांव में बटालियन शिविर को निशाना बनाया। इस क्षेत्र की अहम सड़कों पर यह शिविर सड़कें खोलने के काम की जिम्मेदारी निभाता है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शहीद हुए सैन्य अधिकारी की पहचान कैप्टन आयुष के तौर पर हुई है। ऐसा माना जा रह है कि आतंकियों का संबंध आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से है। सूत्रों ने कहा कि सेना ने दो आतंकियों को मार गिराकर उनके हमले को विफल कर दिया। हालांकि यह सुनिश्चित करने के लिए तलाश जारी है कि कहीं अंधेरे का फायदा उठाकर कोई आतंकी शिविर के अंदर तो नहीं घुस गया।
वहीं रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि ‘नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास गुरुवार तड़के लगभग 4.30 बजे पंजगाम सैन्य शिविर पर फिदायीन हमला हुआ।’ इस हमले में तीन जवान शहीद हो गए जिसमें एक कैप्टन और दौ गैर कमिशन अधिकारी हैं।’ यह जगह किशनगंगा नदी के पास है। साथ ही काफी घने जंगल हैं। ऐसी भौगोलिक स्थिति होने की वजह से आतंकियों को छिपने और भागने में मदद मिलती है। शायद यही वजह है कि यहां आतंकी हमले ज्यादा होते हैं। यह आतंकी हमला ऐसे वक्त में हुआ है, जब घाटी के हालात पहले से ही बिगड़े हुए हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *