नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच खटास बढ़ रही

वाशिंगटन,नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच खटास बढ़ रही है। अमेरिका ने उत्तर कोरिया की परमाणु महत्वाकांक्षाओं के खिलाफ अपनी रक्षात्मक तैयारी को बढ़ाते हुए अमेरिकी नौसैन्य वाहक मारक समूह को कोरियाई प्रायद्वीप की ओर रवाना कर दिया है। क्योंकि आए दिन नॉर्थ कोरिया अपने तानाशाह किम जोंग उन के निर्देश पर सैटेलाइट, मिसाइल और परमाणु बम का परीक्षण कर रहा है।
अमेरिकी प्रशांत कमान के प्रवक्ता कमांडर डी बेनहाम ने बताया, अमेरिकी प्रशांत कमान ने ऐहतिहातन कदम उठाते हुए कार्ल विनसन मारक समूह उत्तर को आदेश दिए कि वह पश्चिमी प्रशांत में अपनी तैयारी और मौजूदगी बनाकर रखें।
नॉर्थ कोरिया खतरा
अमेरिका मिसाइल परीक्षणों के साथ ही परमाणु हथियारों की क्षमता हासिल करने के पीछे पड़े होने के कारण उत्तर कोरिया क्षेत्र में सबसे पहला खतरा मान रहा है। इस मारक समूह में निमित्ज श्रेणी का विमान वाहक यूएसएस कार्ल विनसन, एक कैरियर एयर विंग, दो लक्षित मिसाइल विध्वंसक और एक लक्षित मिसाइल क्रूजर शामिल हैं।
एैसे खतरा
ओबामा के बाद ट्रंप प्रशासन में भी किम जोंग उन ने हथियारों के विस्तार कार्यक्रम को बंद नहीं कर रहा। नॉर्थ कोरिया पहले ही हाइड्रोजन बम का टेस्ट कर चुका है। ट्रंप की चेतावनी के बाद भी नॉर्थ कोरिया हथियारों के विस्तार कार्यक्रम से पीछे नहीं हट रहा है. साउथ कोरिया, अमेरिका और जापान जैसे देश इसे लेकर कई बार यूएन में शिकायत कर चुके हैं.इस साल उत्तर कोरिया ने पांच परमाणु और एक मिसाइल सीरीज के परीक्षण की शुरूआत की।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *