‘रमनपुर‘चौपाल में ग्रामीणों को सडक़ और रोड की सौगात

रायपुर, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रविवार दोपहर प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के पहले दौर का शुभारंभ राज्य के आदिवासी बहुल गरियाबंद जिले के ग्राम केड़ीआमा (रमनपुर) से किया। यह ग्राम पंचायत कनेसर का आश्रित गांव है। डॉ. सिंह अचानक यहां पहुंचे।
उन्होंने रमनपुर की चौपाल में ग्रामीणों से बातचीत कर उनकी जरूरतों के बारे में पूछा। डॉ. सिंह ने लोक सुराज अभियान के पहले दौर में ग्राम पंचायत मुख्यालय कनेसर में लगाए गए आवेदन संकलित करने के लिए शिविर के बारे में भी अधिकारियों से जानकारी ली। सरपंच श्रीमती विक्टोरिया बाई ने मुख्यमंत्री को स्थानीय समस्याओं के बारे में बताया ।
उल्लेखनीय है कि पहाड़ी पर बसा केड़ीआमा लगभग एक सौ वर्ष पुराना गांव है। यह गांव किन्हीं कारणों से वीरान हो गया था। मुख्यमंत्री ने ही 16 मई 2006 को इसे नए सिरे से बसाया था। इसलिए ग्रामीणों ने उनके प्रति प्यार, सम्मान और आभार प्रकट करने के लिए गांव का नामकरण उनके नाम पर रमनपुर कर दिया है। वर्तमान में इस गांव में 46 परिवार रहते हैं, उनकी जनसंख्या 250 है। मुख्यमंत्री ने ग्राम वासियों के आग्रह पर ग्राम पंचायत मुख्यालय कनेसर से केड़ीआमा तक एक करोड़ 44 लाख रूपए की लागत से सडक़ निर्माण जल्द करवाने की घोषणा की और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्माण कार्य तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए। इस सडक़ के बन जाने पर पहाड़ी में बसे केड़ीआमा (रमनपुर) के लोगों को आवागमन की अच्छी सुविधा मिलेगी। डॉ. सिंह ने कनेसर में मंगल भवन निर्माण के लिए चार लाख रूपए और सीसी रोड निर्माण के लिए छह लाख रूपए मंजूर करने की भी घोषणा की। उन्होंने ग्राम पंचायत में पेयजल के लिए सोलर पंप की भी मंजूरी दी। उन्होंने गांव में थ्री फेस विद्युत कनेक्शन का भी आदेश अधिकारियों को दिया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *