एडीजी प्रेम प्रकाश हुए ठगी का शिकार, पेटीएम पर दर्ज हुई एफआईआर

बरेली,आम लोगों के साथ धोखाधड़ी के मामले तो अपने बहुत सुने होंगे लेकिन इस बार बरेली ज़ोन के एडीजी प्रेम प्रकाश के साथ फर्जीवाड़े का मामला सामने आया है। सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले एप पेटीएम पर एडीजी ने धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। पेमेंट लेने के बाद भी जब पेटीएम ने सामान की डिलीवरी नहीं की और लंबे समय तक गुमराह किया तो एडीजी को अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ। जिसके बाद उन्होंने शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज करवा दी है।
एडीजी प्रेम प्रकाश पिछले कई दिनों से पेटीएम को फोन कर रहे थे लेकिन उन्हें लगातार गुमराह किया जा रहा था। पेटीएम ने उनकी बात को तव्वजों नहीं दी तो एडीजी ने शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज करवा दी। प्रेम प्रकाश ने बताया कि उन्होंने पेटीएम से अपने बच्चों के लिए 2 टॉय ड्रोन मंगवाए थे लेकिन 15 दिन बीतने के बावजूद उनके पास टॉय ड्रोन नहीं पहुंचे। पिछले पंद्रह दिनों से वो लगातार पेटीएम को मैसेज कर रहे थे और फोन भी कर रहे थे लेकिन पेटीएम के अफसरों ने उनकी एक ना सुनी जिसके बाद उन्होंने ये कदम उठाया। प्रेम प्रकाश ने गति कोरियर के श्याम सिंह से बात की तो उसने अपने वरिष्ठ अफसर कुशल सिसोदिया से बात कराई। उन्होंने बताया की आपका सामान चेन्नई आ गया है शिप पर लोड हो गया है और उन्हें शाम तक स्टेटस बताने को कहा गया। इस बीच उनके मोबाइल पेटीएम का मैसेज आया जिसमें बताया गया कि उनके कोरियर पार्टनर ने बताया कि अपने डिलीवरी लेने से मना कर दिया है। इस बात को लेकर एडीजी ने कोतवाली में पेटीएम और गति कंपनियों के अफसर श्याम सिंह और कुशल सिसोदिया अदि के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत और आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करवाया है। कोतवाली के इंस्पेक्टर गीतेश कपिल ने बताया कि एडीजी के आदेश पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है और अब पीटीएम और गति कोरियर के अफसरों से पूछताछ की जाएगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *