CG में शिल्पकारों का सम्मान

रायपुर, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज सवेरे देश के जाने.माने वरिष्ठ और सिद्धहस्त शिल्पियों को शिल्पगुरू पुरस्कार और राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता केन्द्रीय कपड़ा मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी ने की। छत्तीसगढ़ सरकार के ग्रामोद्योग मंत्री पुन्नूलाल मोहले और रायपुर के लोकसभा सांसद रमेश बैस भी समारोह में उपस्थित थे।
यह पहला अवसर है जब आयोजन रायपुर में हुआ।
आयोजन में आठ शिल्पियों को शिल्प गुरू पुरस्कार और 25 शिल्पियों को राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। जिन शिल्पकारों को वर्ष 2016 का शिल्प गुरू पुरस्कार दिया गया उनमें दिल्ली के मोहम्मद मतलूब जम्मू.कश्मीर के गुलाम हैदर मिर्जा ओड़िशा के रूपम माथरू पंजाब के गोपाल सैनी राजस्थान के सर्वश्री अर्जुन प्रजापति और बाबूलाल मरोटिया पश्चिम बंगाल की सुश्री तृप्ति मुखर्जी शामिल हैं।
राष्ट्रीय हस्तशिल्प पुरस्कार की स्थापना केन्द्र सरकार द्वारा वर्ष 1965 में की गई थी। ये पुरस्कार सिद्ध हस्तशिल्पियों को उनके शिल्प के संवर्धन और कौशल स्तर के लिए दिया जाता है। राष्ट्रीय पुस्कारों में से प्रत्येक में एक लाख रूपए नगद एक शॉल एक प्रमाण पत्र और ताम्र पत्र देने का प्रावधान है। वर्ष 2016 के इन पुरस्कारों के लिए बिहार की सुश्री हेमा देवी दिल्ली की सुश्री ममता देवी गुजरात के मोहम्मद याकूब खत्री गुजरात के ही श्री अब्राहिम हसन खत्री कर्नाटक की सुश्री उषा जे पवार विनिता प्रकाश और सरोजनी एन.यासमी मणिपुर की अनुबम कल्पना देवी ओड़िशा की सुकन्ती स्वान तेलांगना के डी वेन्कुटम पश्चिम बंगाल की सुश्री कल्पना चित्रकार आंध्रप्रदेश के श्री खंडु श्रीवासलुए तमिलनाडु के आर. रविन्द्रम दिल्ली के सुधीर फड़नेस उत्तरप्रदेश के राजेन्द्र सिंह यादव पंजाब के कमलजीत ओड़िशा के शरदकुमार प्रधान उत्तरप्रदेश के हसन अहमद राजस्थान के सर्वश्री अमृतलाल सिरोहिया राजेंद्र कुमार गजेंद्र सोनी मोहनलाल गुज्जर पश्चिम बंगाल के तापस कुमार बिहार के धीरेन्द्र कुमार और जम्मू.कश्मीर के श्री रियाज अहमद खान का चयन किया गया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *