वोहरा समाज का शांति,सौहार्द और राष्ट्रभक्ति में बड़ा योगदान

इंदौर,दाऊदी वोहरा समाज के धार्मिक प्रवचन कार्यक्रम में यहां की सैफी मस्जिद में हुए आयोजन में शिरकत करने आये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा की देश की प्रगति और उसके निर्माण में वोहरा समाज का अभतपूर्व योगदान है,उन्होंने कहा की इस समाज ने शांति,सौहार्द और राष्ट्रभक्ति में बड़ी भूमिका निभाई है.पीएम ने कहा की इसे देखते हुए ये कहा जाना चाहिए की समाज के सम्मलित प्रयास देश की प्रगति में सरकारों को भी अमूल्य सहयोग प्रदान करते हैं.पीएम ने समाज द्वारा सेवा के क्षेत्र में चलाये जा रहे कार्यों की भी प्रशंसा की.वोहरा समाज में मुहर्रम से पहले इस तरह का धार्मिक प्रवचन का कार्यक्रम होता है जिसे अशरा मुबारक कहा जाता है.इस तरह के कार्यक्रम में शिरकत करने वाले मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं.यह समाज गुजरात में बड़ी तादाद में है,और भाजपा व मोदी को लगता है की इस समाज ने गुजरात के चुनाव में पार्टी के पक्ष में बड़ी संख्या में मतदान कर समर्थन दिया है.

 

पीएम के इंदौर आगमन पर सीएम ने किया स्वागत                                   पीएम का विमानतल पर स्वागत करते मंत्री विजय शाह और महापौर मालिनी गौड़

देश के लिए जीना बोहरा समुदाय ने सिखाया

The Prime Minister, Shri Narendra Modi attending Ashara Mubaraka – Commemoration of the Martyrdom of Imam Husain (SA), organised by the Dawoodi Bohra community, at Saifee Masjid, in Indore, Madhya Pradesh on September 14, 2018.

मोदी ने कहा देश के लिए कैसे जीया जाता है यह बोहरा समुदाय ने सिखाया। पीएम ने कहा कि बोहरा समुदाय सबको साथ लेकर चलता है। राष्ट्रभक्ति पर बोहरा समुदाय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि बोहरा समुदाय से पुराना रिश्ता रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मुझे जन्मदिन के लिए पवित्र मन से आशीर्वाद मिला है। पीएम ने अपने गृह राज्य का जिक्र करते हुए कहा कि गुजरात में हर जगह बोहरा कारोबारी है। उन्होंने कहा कि बोहरा समुदाय भारत की ताकत से सबको परिचित करा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में बोहरा समुदाय के चलते ताकत मिली है। कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में बोहरा समुदाय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। स्वच्छता के प्रति देश में अभूतपूर्व जागरुकता आई है। उन्होंने कहा कि बोहरा समुदाय के लिए हमेशा मेरे दरवाजे खुले हैं।
इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तय कार्यक्रम के तहत आज शुक्रवार को इंदौर पहुंचे। इस एक दिवसीय प्रवास के दौरान सबसे पहले वे सैफी मस्जिद पहुंचे। मस्जिद में पीएम मोदी ने दाऊदी बोहरा समुदाय के धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से मुलाकात की। प्रधानमंत्री के साथ सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी मुस्लिम धर्मगुरु से मुलाकात की। हज़रत इमाम हुसैन की शहादत की याद में दाऊदी बोहरा समुदाय द्वारा आयोजित अशर-ए-मुबारका कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। इस अवसर पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पीएम मोदी लगातार, बिना रुके देश की तरक्की के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बोहरा समाज ने महिलाओं-बच्चों के लिए बहुत काम किया है। शिवराज सिंह ने कहा कि दाऊदी बोहरा समाज अपनों से प्यार और दूसरों की मदद करने में आगे है। उज्जैन देश के सबसे अच्छे शहरों में से एक है और इसमें दाऊदी बोहरा समाज का काफी महत्वपूर्ण योगदान है। दाऊदी बोहरा समाज के धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन ने कहा कि वतन से मोहब्बत करो, किसी से झगड़ा न करो, अपना शहर साफ रखो और अपना दिल भी साफ रखो। प्रधानमंत्री का यह प्रवास लगभग एक घंटे 20 मिनट का है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और ड्रोन कैमरे व सीसीटीवी से नजर रखी जा रही है। आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री विशेष विमान से सुबह 10.35 पर इंदौर विमान तल पर उतरे। जहां से सैफी नगर की मस्जिद पहुंचकर बोहरा समुदाय के धर्मगुरु से मुलाकात की।
इंदौर के पुलिस उप महानिरीक्षक हरिनारायण चारी मिश्रा ने पत्रकारों को बताया कि प्रधानमंत्री के प्रवास के मद्देनजर सुरक्षा-व्यवस्था चाकचौबंद है। पुलिस बल की तैनाती के साथ ड्रोन कैमरे और सीसीटीवी भी लगाए गए हैं। इसके अलावा शहर के लोगों को परेशानी न हो, इसको ध्यान में रखकर मार्ग परिवर्तित भी किए गए हैं। दाऊदी बोहरा समुदाय के सैयदना 53वें धर्मगुरु हैं, उनके 12 सितंबर से यहां धार्मिक प्रवचन चल रहे हैं। सैयदना पहली बार इंदौर आए हैं, इससे पहले उनका सूरत में आना हुआ था। सैयदना के पिता अपने जीवनकाल में दो बार इंदौर आए थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *