नाले की बाढ़ में बह गया ट्रेक्टर चालक,पुल-पुलियों ने रोका रास्ता

छिंदवाड़ा,जिले में सोमवार से हो रहे लगातार बारिश ने नदी-नालों को उफना दिया है। इसके चलते जनपद बिछुआ की ग्राम पंचायत पिपरियाकलां के नाले को पूर के दौरान पार करते समय एक ट्रेक्टर चालक ट्रेक्टर सहित बह गया। घटना की खबर मिलते ही बिछुआ पुलिस का अमला मौके पर पहुंचा और बह गए ट्रेक्टर चालक की तलाश की। नाले पर ट्रेक्टर की केवल ट्रॉली मिली है। घटना के दो घंटे बाद पता चला की ड्राईवर राजू कुमरे नालें की बाढ़ में बहकर आगे निकल गया था और किसी तरह उसने अपनी जान बचा ली। जिला प्रशासन ने भारी बारिश की चेतावनी के चलते कल ही हाई-अलर्ट जारी किया था कि पुल-पुलिया पर पानी के दौरान आवागमन प्रतिबंधित रहेगा लेकिन पुल-पुलिया पर ऐसी कोई व्यवस्था बनाई नहीं गई है कि इस दौरान आवागमन को रोका जा सकें। मार्ग पर कोई रोक-टोक नहीं होने के कारण वाहन चालक पुल-पुलिया पर पानी होने के दौरान भी वाहन सहित मार्ग पार करते है और फिर मुसीबत में फंस जाते है।
जनजीवन प्रभावित
पिछले 24 घंटों की भारी बरसात से जिलेे में जनजीवन प्रभावित है। जिले की पेंच, जाम, कन्हान, कुलबेहरा, बोदरी सहित अन्य नदियां उफान पर आ गई है वहीं छोटे-मोटे नाले पुलिया से ऊपर बह रहे है। छिंदवाड़ा-नागपुर मार्ग पर गहरानाला के पुल पर पानी होने से मार्ग का यातायात घंटों जाम रहा। छिंदवाड़ा गुरैया मंडी रोड में बोदरी पूर होने के कारण इस मार्ग का यातायात भी बाधित रहा है, इसके अलावा परासिया, हर्रई, चौरई मार्ग की छोटी पुलिया में भी पूर होने के कारण मार्ग बंद रहे है।
फसलें प्रभावित
लगातार बारिश के चलते बिछुआ-चौरई क्षेत्र में पहले बोवनी करने वाले किसानों की तैयार हो रही मक्का फसल पानी में बैठ गई है। किसानों ने क्षेत्र का सर्वे कराकर मुआवजा देने की मांग की है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *