बिहार में 10वीं का रिजल्ट घोषित होने से एक दिन पहले गायब हुईं 42 हजार कॉपियां

पटना, बिहार 10वीं बोर्ड परीक्षा में भाग लेने वाले परीक्षार्थी नतीजों का इंतजार कर रहे हैं। बिहार बोर्ड बुधवार को नतीजे घोषित करने वाला है। नतीजे जारी किए जाने से एक दिन पहले नवादा से 42 हजार कॉपियां गायब हो गई हैं। जिलाधिकारी के निर्देश पर इस मामले में एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गई है। दरअसल, बिहार के नवादा से साइंस विषय की 42 हजार कॉपियां जांच के लिए गोपालगंज भेजी गई थीं, लेकिन इन कापियों का अब तक कोई अता-पता नहीं है। बताया जाता है कि जांच के लिए भेजी गई कॉपियों में परीक्षा समिति ने 12 टॉपर छात्रों की कॉपी जांच के लिए मंगवाई तो 42 हजार कॉपियां गायब होने का पता चला। कॉपियां गायब होने की खबर मिलते ही परीक्षा महकमे में हड़कंप मच गया है और डीएम के आदेश पर कॉपियां गायब होने की एफआईआर भी दर्ज करवाई गई है।
रिजल्ट से एक दिन पहले कॉपियां गायब होने से मुश्किल यह आ खड़ी हुई है कि आखिर परीक्षा के नतीजे जारी कैसे होंगे? रिजल्ट जारी होने के बाद अगर कोई परीक्षार्थी अपनी कॉपी रि-चेक जांच के लिए आवेदन करता है तो उसकी क्रॉस चेकिंग कैसे होगी? दो दिन पहले बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष ने दावा किया था कि दसवीं के नतीजों में बारहवीं की तरह गड़बड़ी नहीं होने दी जाएगी। ज्ञात हो कि बिहार बोर्ड की 10 वीं की परीक्षा 21 फरवरी से 28 फरवरी के बीच आयोजित की गई थी। इस साल बिहार बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में 17.70 लाख छात्र बैठे थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *