राशिफल

ग्रहों की दॄष्टि से

कैसा रहेगा आपके लिए वर्ष 2018 इस संबंध में सभी12 राशियों का वार्षिक भविष्यफल प्रसारित किया जा रहा है। यह राशिफल पं.पी.एल.गौतमाचार्य द्वारा तैयार किया गया हैं। यहां प्रस्तुत हैं सभी 12 राशियों का वार्षिक भविष्यफल

1. मेष राशिआपकी राशि का स्वामी मंगल है। भाग्यशाली तथा सुंदर देह वाला भाग्यवान जन्मने वाला, दया, धर्म, ईश्वर को मानने वाला भाग्य, शक्ति का बड़ा चमत्कार रखने वाला दैव योग से सदा सहायक वस्तुओं की पूजा करने वाला, स्त्री व गृहस्थ जीवन में भी गौरव रखने वाला, रोजगार में सफलता प्राप्त करने वाला, स्त्री व गृहस्थ सभी को गौरव सफलता प्राप्त करने वाला प्रभावशाली तथा तेजस्वी स्वभाव का होगा। देह के परिश्रम से आमद लाभ पाने वाला बड़े ऊँचे दर्जे की चतुराईयों से मतलब निकालने वाला अपने अंदर बहुत कामवासना वाला रोजगार का ख्याल रखने वाला स्त्री स्थान में कुछ झगड़ा व लाभ और प्रभाव पाने वाला परिवाद न करने वाला तथा झगड़े तलब मामलों का फायदा उठाने वाला तरकीब पैदा करने वाला शत्रु को दबाने वाला शृंगार रसादिक को चाहने वाला प्रभावशाली होवेगा। बड़ा भागी पुरुषार्थ मेहनत वाला भाई बहन की शक्ति पाने वाला कुछ अशांति पाने वाला कुछ अशांति पाने वाला धन उन्नति करने वाला बड़ा कारोबार करने  वाला हिम्मत से काम करने वाला उत्सव युक्त स्त्री व पिता की शक्ति से सपंर्क पाने वाला देहबल बुद्धि से बहुत कारण पैदा करने वाला धन व कुटुम्ब की शक्ति व कुछ वैमनुस्यता का साथ प्राप्त करने वाला होगा। अश्वनी नक्षत्र की महिलाओं की आंखे चमकदार चुम्बकीय प्रभाव होता हैं। धनी पुत्रवान सुखदायक धैर्यवान रोजगार नौकरी में हो तो समय से पहिले सेवा निवृत्त होना पसंद करती है। क्योंकि इनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो जाती हैं। तथा धनसंचय की प्रवृत्ति होती हैं। 45-50 के बाद पूर्णत पूंजी अपने को परिवार कल्याण में समर्पित कर देती हैं। मंत्र- ऊँ अंगराय नम का जाप करें

2. वृष राशि कृतिका,ओबारी के रोहणी वे वो मृगशिरा नक्षत्र आपकी राशि का स्वामी शुक्र हैं। इस वर्ष गोचर गृह में शुक्र उत्तम स्थान में होने से आर्थिक, व्यापारिक, बौद्धिक दृष्टि से आपका समय लाभकारी होगा किन्तु वृष राशि वालों को जिद हट तथा अड़ियल स्वभाव से बचकर चलना चाहिए। झगड़े झनझट तलब मामलों में से फायदा व आमदनी का योग पाने वाला आमदनी के संबंध में कुछ दिक्कत के साथ प्रभाव से धन प्राप्त करने वाला होगा। धन के आगमन में कमी न आने पाये किन्तु धन की कमी या रुकावटें पड़ जाये किन्तु प्रभाव में कमी न आने पाये खर्च अधिक करने वाला ननिहाल पक्ष से लाभ का योग रखने वाला होवेगा। पुत्रों के स्नेह से मित्रों के स्नेह देवताओं की सेवा से सुख प्राप्त करने वाला होता है। प्रपंच पाप कार्य में फंसने से चिंतित रहता हैं। शुक्रवार का क्रत करें तथा शिव की आराधना करायें। मंत्र- ऊँ नम शिवाय का जाप करें।

3. मिथुन राशि  आपकी राशि का स्वामी बुध है। बुद्ध सप्तमेष कर्मेश ग्यारहरवें भाव में व्यय भाव में होने से खर्चीला बनायेगा। अत संयमी जीवन जीना आवश्यक हैं। शनि कष्टी गुरु मिंत्रगृहों साधारण कष्टी राहु, केतु कष्टी आयु में होने से दोनों कष्टी हैं। धनेश शनि लग्न में होने से जिद्दी हठी स्वाभिमानी बनाता हैं। बहिन भाई में अभिरुचि तथा पराक्रम में वृद्धि होगी महत्वाकांक्षा तथा नौकर का सुख मिले मित्रता व रहन सहन में वृद्धि होगी उद्योग स्थापना करने की स्थिति बनेगी। माता पिता का ख्याल रखेंगे तथा उनके स्वास्थ्य पर आपका विशेष ध्यान होगा। तथा आपका पराक्रम बढ़ेगा। आपकी तुला राशि के जातक की मित्रता तो रहेगी किन्तु आप लाभ अर्जित नहीं कर पायेंगे। मेष राशि के जातक से सतर्क रहकर कार्य करें अन्यथा हानि उठानी प़ड़ेगी। परिवार के सदस्यों से आपका बेहतर कामकाजी संबंध बनाये रखने से आपको लाभ होगा।मंत्र- ऊँ ए हीं क्लीं महा लक्ष्मै: नम

4. कर्क राशि  ही पुर्नवसु हू हे हो डा पुण्य डी डू डे डो अश्लेषा वर्षारंभ में चौथे स्थान में समय समस्या का ध्यान रखें। गुरु मंगल तुला राशि में बुध वृश्चिक का बारहवें स्थान में मिथुन राशि का चंद्र भ्रमणशील है। चतुर्थ स्थान में मंगल गुरु की युति से सुख आनंद की वृद्धि होती हैं। हर एक कार्य में सफलता मिलती है। पद की प्राप्ति होती हैं। व्यवसाय में उन्नति होने की संभावना रहती हैं घर में मांगलिक उत्सव होते हैं पुत्र जन्म की संभावना रहती है, तर्कशक्ति सूझ-बूझ में वृद्धि होती हैं। सट्टे आदि भविष्य में व्यापार में लाभ होता हैं। चंद्रमा सप्तम भाव में होने से शारीरिक पीड़ा व मानसिक पीड़ा पति पत्नी में होगी किन्तु कोई बड़ी बीमारी कायम नहीं हैं। वर्ष पर्यन्त धन खर्च होगा व्यापार व्यवसाय में संघर्ष की स्थिति रहेगी। परिवार में सुख शांति रहेगी उलझन व टकराव से बचें। शुभ फल हेतु शंकर जी की पूजा करें तथा सोमवार का वृत रखें। महामृत्युंजय मंत्र का जाप-पाठ करायें व करें।

5. सिंह राशि  मा,मी,मू,मे,मघा मोटा, टी, टू, पूर्वा फाल्गुनी टे। उ.फा. आपकी राशि का स्वामी सूर्य है। व्यावसायिक व राजनैतिक दृष्टि से काफी लाभदायी साबित होगा। सहज भाव से मंगल गुरु की युति भाई व मित्र से सहयोग मिलेगा। चतुर्थ स्थान का बुध आपको लाभ पहुंचायेगा। किन्तु आपकों संयम से काम लेना होगा। आपकें जीवन की शांति गतिविधियां अपना कुछ अलग ही रंग दिखायेगी। आपका समय व्यस्तताओं से भरा हुआ हैं पर यह अपने आप में मौज मस्ती एवं परिपूर्णता से भरा जीवन होगा आपके अंतरमन की प्रेरणा से आपके सार्वजनिक कार्य सुन्दर एवं सुचारु रुप से पूर्ण होगें आप अपने कार्य क्षेत्र में कुछ नई तकनीकें अपनाने के लिए प्रयासरत् रहेंगे। और आपके हर प्रयासों को कार्यस्थल पर सहमति मिलने से आपकी कार्यशैली का थोड़ा बहुत विरोध का भी सामना करना होगा। आप विनम्र बने रहें और लोगों के साथ मैत्री पूर्ण रवैया अपनायें इससे आपकों बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे। आपका व्यक्तित्व चिन्तनशील व्यवहारिक व्यक्तित्व आपके आंतरिक मूल्यों को गूढ़ अर्थ व अन्य ब्रहाण्ड की रचना और उत्पत्ति के जुड़े प्रश्न आपके जीवन मूलय भाग होगें। मनुष्य के जीवन मूल्य धन न मानकर आप रहस्यमयी भाव जीवन मूल्य धन मानकर चल रहे हैं। सिंह राशि की महिलायें जिद्दी हठी, स्वाभिमानी, चिन्तनशील अपने में खोये रहना तथा अपने काम से काम रखना तथा नौकरी पेशे में सीमित व्यवहार रखना तथा अपने कार्यो पर अडिग रहकर कार्य करना इनका स्वभाव हैं। प्रेमी भाव की महिलाएँ होती हैं। मंत्र- ऊँ घृणि सूर्य आदित्य नम का जाप करें।

6. कन्या राशि  टे पा पी 30 फा.पू, ष, ण, द्व हस्त पेयो चिंता नक्षत्र आपकी राशि का स्वामी बुध है। इस वर्ष आप स्वयं अपनी जिम्मेदारियों के बोझ तले दबा महसूस करेंगे। आपकी योग्यता की पहचान की वजह से आप में यह जिम्मेदारी उठाने की ताकत आयेगी। लेकिन इसका ईनाम या पुरस्कार इतनी आसानी से आपको नहीं मिलेगा क्योंकि आपकी क्षमता को कम करके आंका जायेगा यह स्थिति कार्य व्यवहार तथा परिवार दोनों के भाव समान रुप से दिखेंगे। आप अपने परिवार के बुजुर्ग सदस्य के स्वास्थ्य के बारे में भी चिन्तित रहेंगे। आप सब कुछ हासिल कर सकते हैं आप अपनी भवनाओं पर अंकुश लगाकर प्रयास करते रहें सफलता आपको निश्चय मिलेगी। यह वर्ष आपके लिए हितकर फलदायक पद प्रमोशन दिलाने वाला हैं। अधिकारी वर्ग से संपर्क तथा सहयोग लेकर चलें आर्थिक सामाजिक जिम्मेदारियों से जुड़े मामले विचार शक्तियों को पहचाने में सफल होंगे। आपकों बिल्कुल अलग तरह की योजनाओं पर कार्य करने के लिए दिशा निर्देश मिलेगा। कन्या राशि की महिलायें जिज्ञासु है तथा बड़ी जल्दी विश्वास करके भावुक हो जाती हैं आपकों समय व स्थिति का ध्यान रखकर कार्य करना हितकर होगा अन्यथा आपके साथ छलावा होगा तन, मन, धन, की व्यवस्था सांसारिक मूल्यों में कम होगी। विद्यार्थियों के लिए वर्ष उत्तम फलदायी हैं किन्तु आपका स्वभाव खर्चीला होगा मित्रों की शोहबत में घुमक्कड़ होकर आप अपनी शिक्षा का नुकसान उठायेंगे। अत खलु मित्रों से दूर रहकर अध्ययन करें। मंत्र- ऊँ बुध बुधाय नम का जाप करें।

7. तुला राशि

रा, रि, चित्रा रु रे रो ता स्वाती ती तू ते विशाखा आपकी राशि का स्वामी शुक्र है। अत आप सचेत रुप से तनाव मुक्त होकर आराम करना और अपने कार्यो को आसान बनाना चाहेंगे। आर्थिक मुद्दों पर आप थोड़ा कम ध्यान देंगे। आप अपने दोस्त या किसी सहयोंगी के साथ काम काज के दौरान ही खुशनुमा वक्त बितायेंगे। आप वही करते हैं जिसमें आपको आंतरिक खुशी मिलती हैं। आनंद के पल किसी रुप में भी हो सकते हैं आप किसी मनोरंजन में शामिल होना कार्यक्रम में शामिल होना नृत्य संगीत का आनंद उठाना या किसी विवाह समारोह में शामिल होना। आपके जीवन में किसी का करीब आना सुनिश्चित हैं। आपके मित्र आपके करीबी बने रहें उनसे धोखा मिल सकता हैं। तथा सामाजिक प्रतिष्ठा में कभी आंच आने की संभावना बनेगी आपका परिवार पत्नी आपका बहुत ख्याल रखते है। आपका जीवन साथी आपका परिवार पत्नी आपका बहुत ख्याल रखते हैं। आपका जीवन साथी आपसे बहुत प्यार करने हैं आप उनके मन की गहराईयों को भांपने का प्रयास कर उनकी भावनाओं को समझकर कार्य करे।  तुला राशि की महिलायें जिद्दी, हठी स्वाभिमानी तथा बड़ी वक्ता नेता तथा नेता किस्म की होती है। नौकरी व्यवसाय में कुशल तथा कार्य सहभागिनी होती हैं नौकरी पेशा में अपने अधिकारियों को अपने कार्यों से प्रसन्न रखती हैं तथा और कार्य हिम्मत से करने के लिए हमेशा तैयार रहती हैं। अपने अधीन कर्मचारियों पर दया का भाव तथा अनुशासनप्रिय होती है। जिनको डांटती हैं उन पर कार्यवाही नहीं करती जिनकों नहीं डांटती तो उन पर कृपा या बचाव पक्ष रखती है। यह वर्ष उत्तम फलकारक है। आप एस.आई. पी.एस.सी. की परीक्षा फेस करें तथा आगे अध्ययन हेतु प्रयास करें निश्चय ही सफलता मिलेगी सहयोगी मित्रों से ईर्ष्या द्वेष न रखें अपना कार्य खुद करें अध्ययन मन लगाकर करें आंख मटक्का से दूर रहें।मंत्र- ऊँ ए ह क्लीं महा त्रिपुर सुंदरी नम
8. वृश्चिक राशि

तो विशाखा, ना, नी, नु, ने, अनुराधा वो, वा, वी, वू, ज्येष्ठा आपकी राशि का स्वामी मंगल हैं मंगल लाभ स्थान में मित्र ग्रही होने से आपकी सभा गतिविधियां लक्ष्य और खुशियां पारलौकिक न होकर पूर्णत भौतिकवादी और सांसारिक होगी। आप जीवन के आंनद से सरावोर है और आपका मानना है कि जिन्दगी का असली मजा मौज मस्ती में ही हैं अब आप महसूस करेंगे कि आपकी खुश मिजाजी और सहजता आपके जीवन के आनंद को और अधिक बढ़ा  देती हैं आपकी सफलता आपकों पूर्ण आभास करा देती हैं। इस बात पर आप पक्के तौर पर जान धन कमाने अप्रत्याशित लाभ अर्जित करने पैतृक सम्पत्ति हासिल करने और सट्टे आदि में भी लाभ प्राप्त करने का अनुकूल समय है। धन, रुपये, पैसे, शेयर संबंधी सभी वाद विवाद आपको ही निपटाने पड़ेंगे। यह नहीं हैं कि ये सभी मामले सीधे आपसें जुडें हैं लेंकिन पिछले समय आपके परिवार से जुड़े हुए बातचीत से भी संबंधित होंगे। आपकों तंत्र मंत्र, साधना, प्रार्थना, धर्म और ध्यान की ओर आप प्रबल रुप से आकर्षित होंगे। आपकों किसी सेमीनार के वर्कशाप, कार्यशाला में शमिल होने का अवसर मिलेगा आपके ज्ञान और अनुबंधों में वृद्धि होगी। वृश्चिक राशि की महिलाएं जरा जरा सी बातों में नाराज होना चूड़ी जैसे दड़कना तथा बात बात में गुस्सा होकर चिल्लाना अनुशासन प्रिय तथा बच्चों, पति को अनुशासन में रखना धर्म से रहने यदि नौकरी करने वाली होवे सो चिड़चिड़ापन छोड़कर नौकरी करें तो लाभ होगा। विद्यार्थियों के लिए – आप अपना खर्चीला स्वाभाव त्यागें, पिता का पैसा तथा पढ़ाई का मूल्य समझकर अध्ययन करें, परदेश में पढ़ने यदि गये है तो अध्ययन में ध्यान देवें  अध्ययन छोड़ने के बाद फिर तो जीवनभर घूमना ही हैं मोनी मूंगा धारण करें।मंत्र- ऊँ आजनेयाय महां वलात्य स्वाहा।
9. धनु राशि

ये, यो, भा, भी, मूल मू, ध, फा, ढ़, पूषा में उत्तराषाढ़ा आपकी राशि का स्वामी गुरु है। गुरु लाभेष शुक्र के घर होने से जातक मानसिक भावनात्मक तथा आध्यात्मिक रुप से विकास के लिए प्रयासरत् होंगे। जिस कार्य से आपके व्यक्तिव की अमिट छाप दिखायी देगी। आप किसी समारोह या संगठन में शमिल होंगे आप अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी पहचान बनायेंगे। आप स्वयं अपनी कल्पना व विचारों को उन्मुक्त उड़ान भरने के लिए छोड़ दें आपकी मौलिक अध्ययन सोच शोध और उच्च शिक्षा का अवसर प्राप्त होवेगे। मीडिया में खास तौर से टेलीविजन की दुनिया में आपके जाने की संभावना बहुत है। आपके सामने आचरण और नैतिकता के मुद्दे भी आ सकते हैं। और इस संबंध में आपकों कोई निर्णय लेना पड़ सकता हैं। आप जो भी करेंगे उसका सम्मोहन प्रभाव होगा आपके मन की ऊंची उड़ान है जो इस समय आपको न्याय संगत प्रतीत होती हैं। आप अपनी जेब और सेहत पर ध्यान दें क्योंकि दोनों का नुकसान हो रहा हैं इस समय आप न तो कही शरीर से मेहनत करें और न ही कभी फालतू पैसे खर्च करें। आप में उन्माद या पागलपन का जोश भरा है जो आपके सामने आनेवाले समय की गुलाबी तस्वीर होगी आपकों समझकर कार्य करना चाहिए। यह वर्ष महिलाओं के लिए चिंता मुक्ति दिलाने के साथ-साथ नये कार्य, नई ताजमी, नई प्रेरणा, स्त्रोत मिलेंगे। जो कि आगे चलकर भविष्य में आपके लिए हितकर तथा उन्नति में बाधक की जगह साधक होंगे। आपको समय तथा समस्याओं का ध्यान रखना चाहिए। विद्यार्थियें का समय उत्तम किन्तु मध्यम फलकारक हैं। शिक्षा के विकास एवं ज्ञान के प्रकाश में गृहों के प्रभाव कभी भाव रहता है। यदि विद्यार्थी अध्ययन में रुचि रहकर कार्य करता हैं अध्ययन करता हैं तो निश्चय ही सफलता मिलेगी किन्तु विद्यार्थी ध्यान कम मन बाहरी वातावरण में ज्यादा लगाते हैं जिससे परिणाम माकूल नहीं मिलता।मंत्र- ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय नम।

10. मकर राशि
भो, जा जी, उत्तराषाढ़ा, खी, खू, खे, खो, श्रवण गार्गी घनिष्ठा आपकी राशि का स्वामी शनि है। शनि स्वभावत कर्मशील, मेहनतकश, पूर्ण संतुष्टि के साथ कार्य करने वाले होगें। आपकों यह यकीन हो जायेगा कि आप बेहतर जीवन जी रहे हैं तेजी से कदम सामंजस्य के साथ बढ़ रहे हैं। आप अपने व्यवहारिक जीवन में अपनी आंखों के सामने सच होते हुए देखेंगे और उसी के अनुसार आप निर्णय भी लेंगे। आप अपने कार्य रुपी रंग मंच पर बहुत नाटकीय सुंदर और आकर्षक ढंग से अपने कार्य की शुरुआत करेंगे। और अपने कैरियर के दृष्टिकोण को पुन परिभाषित करते हुए उसे बदलने की कोशिश करेंगे कुछ अर्जित करने के उद्देश्य से आप अपने नयें लक्ष्य पर सारा ध्यान केन्द्रित करेंगे आपको महसूस होगा कि आपकों कार्य की उपलब्धियां हासिल होती हैं आपके पारिवारिक जीवन में अपनत्व बंधन प्यार एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान और संबंध से गर्म जोशी न हो वाद प्रतिवाद न हो अगर आप खुशनुमा अपने घर को बनाना चाहते है तो आप निष्पक्ष मूल्यांकन कर अपने दृष्टि कोण में बदलाव लायें। महिलाओं के लिए यह वर्ष सुविधायुक्त हैं किन्तु अपने अड़ियल स्वभाव और जिद में नम्रता लाना आवश्यक होगा तभी आप सहवर्ती मित्रों सहयोगियों से लाभ प्राप्त व सहयोग प्राप्त कर सकते हैं। कामकाज मे शंकालु प्रवृत्ति रखने से विरोधाभास होगा। विद्यार्थियों के लिए विशेष रुप है कि लाभ का शनि जिद्दी, हठीला बनाता हैं। आपकों जिद, हठ से मित्रों से भिन्न हो जायेंगे। विचार भेद मित्रों से अध्ययन में ध्यान देना आपके लिए ठीक होगा।
मंत्र- उँ नम भगवते वासुदेवाय नम।

11. कुम्भ राशि
गू, गेधनिष्ठा गो, सा, सी, सू, शतभिषा से सोदा पूर्वाभाद्र आपकी राशि का स्वामी शनि है। मानसिक शांति तथा समन्वय में यह वर्ष परिपूर्ण रहेगा। आपकी खुशियें में पास पड़ोस के साथी मौजूद रहेंगे। प्रियजनों के साथ समय व्यतीत करने के लिए उत्तम समय प्रिय जनों के साथ व्यतीत होगा। कोई बुजुर्ग आपको मानसिक शांति और सुरक्षा शांति और सुरक्षा प्रदान करेंगे आपउत्साह के साथ अपने काम पर लौंटेगें। आप अपनी जिम्मेदारी व लक्ष्यों के बारे में सचेत रहेगे। आप अपनी कार्यशैली पहिले से अच्छी बना सकेंगे। परिवार प्यार और आपके दोस्त में भावनात्मक निर्देश की जरुरत पड़ती है। प्यार जमा पूंजी हैं। दूसरों पर खर्च करें तो उनके सूद के रुप में आप उनका प्यार हासिल करेंगे। अपार खुशियों और प्रेम के रुप में सरावोर होगा। आपके जीवन में संतुलन बना रहेगा। राजनीति के क्षेत्र में आपका वर्चस्व दबदबा बना रहेगा। चारों और आपकी वाह वाही होगी अध्ययन आपकी उन्नति में बाधक बन सकता है। महिलाओं के लिए नौकरी पेशा में पारिवारिक सुख शांति में बढ़ोत्तरी होगी। कार्यकुशलता अनुकूल होगी किन्तु विचार भेंट बनेंगें लोक कल्याण भावना से ओत प्रोत रहेगे। खेल कूद मनोरंजन तथा घूमने फिरने में व्यस्त रहेंगे। भागदौड़ बहुत अधिक होगी। आपके अपने शत्रु बन जायेंगे। विद्यार्थियों के लिए यह वर्ष उत्तम फलदायक हैं। आप निराशाजनक विचारों को त्याग करके शुद्ध बुद्धि से अध्ययन करके उच्च शिक्षा के स्तर को बढ़ाने हेतु प्रयास अच्छा करे। आप आई.आई.पी.एस., पी.एस.सी., एम.बी.ए. तथा पी.एच.डी. प्रोजेक्ट आदि तैयार करने के लिए अच्छे समय अवसर हैं। कृपया प्रयास अवश्य करेंगे।
मंत्र- ऊँ ए हीं श्री शनिश्चराय नम।

12. मीन राशि
दी, पू, भा, दू, थ, अ, प, उत्तरा भाद्रपद दे, दो, चाची रेवती आपकी राशि का स्वामी गुरू है। अष्टम भाव मित्रगृही गुरु मंगल के साथ होने से आयु का लाभ उत्तम मिलेगा। स्वास्थ्य में उतार चढ़ाव की स्थिति बनेगी। घर परिवार के लिए भाग दौड़ के बीचसमय निकाल लेंगे प्रेमी प्रेमिका से मुलाकात हो जायेगी। जनवरी व अप्रैल में आप अपनी शक्ति व सामर्थ्य का विस्तार करेंगे। आत्म विश्वास व मनोबल बना रहेगा नई सूचना संवाद, ई-मेल, इंटरनेट आदि का उपयोग करके आप अपने लाभ में बढ़ोत्तरी करेंगी। रिश्तेदार व घर में किसी बुजुर्ग के साथ स्वास्थ्य को लेकर परेशानी की स्थिति बन सकती हैं। क्रोध व उद्विघ्नता में आपका बना बनाया काम व खेल बिगड़ सकता हैं शत्रु स्वास्थ्य विरोधी आपके विरुद्ध कोई व्यूह रचना या षड़यंत्र रच सकते हैं। मन में अनुचित विचार आयेंगे व अनुचित कार्यो की ओर आकर्षित होंगे अपने कार्य पर नियंत्रण रखे। कार्य व्यवसाय में समय स्थिति का ध्यान रख कार्य करना चाहिये। राजकीय कार्य में सफलता मिल जायेंगी आपसे जलने वाले लोग आपकी बुराई व बदनामी करेंगे संतान की किसी गलत हरकत की वजह से मन अशांत रहेगा। समय स्थिति का ध्यान रखें। कामकाजी महिलाओं के लिए उत्तम समय है समय स्थिति का लाभ लेवें स्थानान्तरण के योग बनेंगे। राजनैतिक कार्यों में सफलता मिल जायेंगी। रुके हुए सरकारी काम निश्चय पूर्ण होवेंगे। आपको धैर्य बनाये रखकर काम करना चाहिए। क्रोध् लालच से हानि होने की संभावना हैं। यह वर्ष विद्यार्थियों के लिए उत्तम फलकारक है आपको चाहिए कि शोध के कार्यो में मन लगाकर रायशुमारी के साथ कार्य अवश्य करें। दूषित वातावरण तथा घुमक्कड़ मित्रों से दूर रहे तथा स्थिति का अध्ययन में ध्यान रखे।
मंत्र- ऊँ ए हीं क्लीं महात्रिपुर सुन्दरी नम।

आनंद,जोश और उत्साह के साथ साल 2017 का आगाज हुआ है. प्रगामी अर्क ने यह साल आपके लिए कैसा रहेगा और विभिन्न राशियों पर क्या प्रभाव पडऩे वाले है. इस बारे में विभिन्न विद्वान ज्योतिषाचार्यों से चर्चा की है. फिर तैयार किया है आपके लिए साल भर का लेखा-जोखा. लोगों को अपने निजी जीवन से लेकर घरेलू और कारोबारी दुनिया तक में कभी प्रसन्नता,कभी कष्ट उठाने पड़ते हैं. इनसे किस प्रकार निजात पाई जा सकती है. साथ ही किस ढग़ से जीवन को निखारा जा सकता है इस संबंध क्या उपाय करने से कष्ट कम किए जा सकते हैं. उनका ब्यौरा अलग-अलग राशियों के अनुसार दिया है. उम्मीद है ये आपको साल भर को समझने और अभी से उस अनुरूप कार्ययोजना बनाने में मदद करेंगे. ताकि आपको निजी,पारिवारिक और कारोबारी जीवन में सफलता मिल सके. आइए साल 2017 में अपने को कैसे निखारा जा सकता है. ये जानते हैं.
राशिफल 2017.
1 मेष
इस साल के शुरु उत्साहपूर्ण पुरुषार्थ की तरफ आप आकर्षित होंगे.धर्म-कर्म के कार्यों में रुचि रहेगी.दूर तक की यात्राएं करेंगे. संतान पक्ष की तरफ से स्वास्थ्य को लेकर कुछ परेशानी आ सकती है, अतत: आप अपनी समझदारी से ऊस पर नियंत्रण पाने में सफल रहेंगे. इष्ट-मित्र इस साल आपके काम आएंगे उनकी मदद से आप अपने बिगड़े कामों को बना सकेंगे. जिससे सफलता का नया दरवाजा खुलेगा. जून के बाद आपको सफलता के आसार हैं. करीबी नाते-रिश्तेदारों के संग विवाद से बचें. क्रोध पर नियंत्रण रखना ही कारगर हो सकता है. संतान के कार्य विशेष पा आकस्मिक खर्च हो सकता हैं. इस वर्ष आप कार्यक्षेत्र में अधिक व्यस्त रहेंगे. प्रतिष्ठा में बढ़ोत्तरी व आय के साधनों में सुधार होने के योग साल के अंत से हैं. अगर आप व्यापारी हैं तो व्यवसाय में लाभ और उन्नति के मौक़े मिलेंगे, परन्तु धन का व्यय आप अपनी विलासिता पर कर सकते हैं.
अपने परिश्रम से धन लाभ होगा. माता-पिता का सहयोग हालातों के परिवर्तन में मददगार साबित होगा. नए कार्य की योजना बनेगी. तीर्थ यात्रा के योग हैं. पिछले रुके काम बनने के आसार है. बढ़ते पुरुषार्थ से आपका आत्मबल विकसित होगा. इस वर्ष आपको भाग्योन्नति के अवसर भी प्राप्त होंगे. प्रेम के मामले में संतुलन बनाकर चलें तो उत्तम रहेगा.
ये उपाय करें
भाईयों का सहयोग आपके लिए फायदेमंद है,लिहाजा बड़े भाई के पैर छूकर आशीर्वाद लें, शनि साढ़ेसाती / ढैया 26 जनवरी को खत्म होगी. जिससे पारिवारिक विरोध, शत्रुओं की बढ़ोत्तरी, गृहक्लेश, रोगों से परेशानी, व्यर्थ के खर्च और धन-हानि जैस संकट आते हैं. जिसके लिए बहस से बचना, स्वास्थ्य की देखभाल करना उपयोगी साबित हो सकता है. क्योंकि आप पराक्रमी आत्मविश्वास से भरपूर है,लिहाजा क्रोध का त्याग करने से अच्छे परिणाम आ सकते हैं. इस वर्ष 9, 18, 27, 36, 45, 54, 63 और 72 शुभ अंक हैं.जबकि लाल, नारंगी और पीला रंग शुभ हैं. पूर्व दिशा अधिक शुभकारी है. केले, संतरे, मौसम्मी, सेब, लाल मलका, तुअर दाल और हल्दी का सेवन शुभ विशेष रूप से अच्छै फल देगा. इस प्रकार साल की शुरुआत भले ही सामान्य रहे पर अंत अच्छा रहने वाला है. किसी बड़े अधिकारी का सहयोग नौकरी में तरक्की का कारण बनेगा. सुबह की सैर फ़ायदेमंद रहेगी.

2 वृषभ
वृषभ राशि के लोगों को उच्च प्रतिष्ठित और स्त्री हैं तो पुरूष और पुरूष हैं तो स्त्री लिंग के लोगों का सहयोग लाभ दिलाने वाला साबित होगा. पैसों की आवक सामान्य रहेगी. वाहन एवं मनोरंजन के कार्यों पर आप अधिक ख़र्च होगा. अप्रैल से धीरे-धीरे लाभ मिलना शुरु हो जाएगा. पर खर्चों में भी बढ़ोत्तरी होगी. साल के मध्य से बिगड़े काम बनने लगेंगे, व आर्थिक स्थिति अच्छी रह सकती है. धन-प्राप्ति के नए अवसर आएंगे. निवेश वाले धन पर लाभ मिलना शुरु हो जाएगा. शेयर बाज़ार या ज़मीन संबंधी कार्य में पैसा लगाने से फ़ायदा मिल सकता है. बड़ो विशेष रूप से पिता व गुरुजनों से सम्मान और सहयोग दोनों मिलेगा.
परिवार के सभी सदस्यों के सहयोग के साथ ही संतान की तरफ से खुशियाँ हासिल होंगी.लाइफ पार्टनर से अच्छा तालमेल रखना जरूरी है. आपके लाइफ़ पार्टनर को कुछ शारीरिक परेशानियाँ रह सकती हैं, लेकिन यह समय बहुत छोटा होगा और जल्दी ही खत्म हो जाएगा. अकेले हैं तो नए प्रेम संबंध और पुराने प्रेम संबंधों में मज़बूती आ सकती है. साल के अंत से आर्थिक स्थिति अच्छी रह सकती है. स्वास्थ्य के प्रति परेशान होने की ज़रूरत नहीं है, गैस, बदहजमी आदि पर अभी से नियंत्रण नहीं किया तो वे आने वाले समय में चिंता का विषय हो सकती है.
ये उपाय करें
सुगन्धित चीज़ों का प्रयोग करें इस साल शनि साढ़ेसाती/ढैया रहेगी. जिससे शारीरिक पीड़ा, रक्त विकार, पारिवारिक कष्ट और व्यापार में नुकसान हो सकता है. जिससे स्वास्थ्य का ख्याल रखना जरूरी है.
जबकि तनाव को भी अपने से दूर रखना जरूरी होगा. 6, 15, 24, 33, 42 और 51 के अंक शुभ है.
क्रीम, हरा और नीला रंग शुभ है. दक्षिण दिशा और खाने-पीने की वस्तुओं में मीठी सफ़ेद मिठाई, खीर, दूध व पनीर श्रेष्ठ है.

3 मिथुन
साल की शुरुआत में उतार-चढ़ाव के बाद भी आर्थिक स्थिति सामान्य बनी रहेगी.नया काम शुरु करने में समस्याएँ आ सकती हैं, लेकिन पुरूषार्थ और तप की बदौलत सत्पुरुषों से मिलने का संयोग भी बन रहा है.जिनके आर्शीवाद से योजनाएँ भी पूरी हो सकती हैं. अपने ही कार्यों से आप फूले नहीं समायेंगे और विरोधी पक्ष भी गुप्त रूप से आपके गुणों की प्रशंसा करेंगे. ज़मीन संबंधित विवादों से कुछ परेशानी हो सकती है. आप अपनी प्रगति का रहस्य सहयोगी वर्ग को न बताएँ तो बेहतर होगा. व्यापारिक वर्ग की निराशा आशा में परिवर्तित होगी, इसलिए साहस से बढ़ते रहें. मुक़दमे,कोर्ट कचेहरी से जुड़े विवाद हल हो सकते.नए कार्यों की योजनाएँ बनेंगी, जो सफल रहेंगी. देव, गुरु और विद्वानों के प्रति आपकी भक्ति-भावना जागृत होगी और कार्यों में आ रहे व्यवधान भी समाप्त होंगे. खोया विश्वास प्राप्त करेंगे और क़ारोबार में धन लगाने से फ़ायदा मिलेगा.
वर्ष के अंत में समस्याएं खत्म होना शुरू हो जाएंगी. आय के अन्य स्रोत हासिल करेंगे.धंधे में सोच-समझ कर पैसा लगाएं. यदि शेयर बाज़ार से जुड़े हैं तो अच्छे लाभ मिलने की उम्मीद बन रही है. संपत्ति या वाहन खरीदने में धन खर्च कर सकते हैं. पैसा आता-जाता रहेगा, लेकिन अधिक समस्या महसूस नहीं होगी. प्रेम-संबंधों में सतर्कता रखनी होगी.उधर,कार्य-स्थल पर आपके कार्य में बढ़ोत्तरी होने की संभावना है, जिससे आप पर काम का दबाव अधिक हो सकता है. साल के दूसरे भाग से परेशानियां कम होने लगेंगी.
उपाय
स्टेशनरी के सामान जैसे कॉपी, पेन, पेन्सिल वगैरह बच्चों को देना शुभ होगा. सोच समझकर कर निर्णय लेने की वजह से मानसिक श्रम अधिक हो जाता है,इस लिए तनाव से बचना अच्छा रहेगा. 5, 14, 23, 32, 41 और 50 शुभ अंक हैं. क्रीम और हरा रंग विशेष रूप से फलदायक होगा. पश्चिम की दिशा में यात्रा और उधर,जाकर किए जाने वाले कामों में खास तौर पर सफलता मिलेगी. मूँग की दाल व हरी सब्जिय़ों का सेवन शुभ रहेंगा.

4 कर्क
अप्रैल तक कुछ कठिनाईयों के बाद समय तेजी से ठीक होना शुरू हो जाएगा. अपने से कनिष्ठ लोगों के संग तालमेल बनाकर रहना अच्छा रहेगा. परिवार के लोगों से ख़ुशी औरचाहने वालों से आपको सहयोग मिलेगा. परिवार के साथ बेहतरीन समय बिता सकेंगे. सावधानी के साथ पैसा लगाएं धन-प्राप्ति के अच्छे योग हैं. कारोबारियों के लिए साल अच्छा है. लेन-देन के मामलों में सावधानी रखना उचित रहेगा. जोश में आकर कोई भी निर्णय नहीं लेना चाहिए. साल के मध्य में शुभ कार्यों में खर्च का अवसर प्राप्त होगा. नए कार्यों की योजना बनाने पर उसमें सफलता के योग है. सितम्बर से भाग्य हर काम में साथ देगा. राजनीति में यश व नया परिचय मित्रता में बदलने से ख़ुशी होगी. अक्टूबर से नवंबर माह के मध्य तक कोई भी कार्य सोच-समझकर करें वर्ना कई शुभ अवसर हाथ से निकल भी सकते है. आय के नए-नए स्रोत भी आपके सामने आएंगे व कार्यों के प्रति दिलचस्पी बढ़ेगी. प्रेमी-प्रेमिका को एक दूसरे का भरपूर सहयोग मिलेगा.कारोबार में प्रगति के असासर हैं. परिवार में सुख-शांति भी बढ़ेगी.नौकरी की तलाश में लगे युवाओं को सफलता अवश्य मिलेगी। साथ ही जो लोग नौकरी बदलना चाहते हैं उनके लिए भी नए अवसर आएंगे.
ये उपाय करें
दादी,नानी या बुज़ुर्ग महिला का आशीर्वाद शुभ है,उससे प्रगति का मार्ग प्रशस्त होगा. इस साल शनि की साढ़ेसाती व ढैया का असर नहीं होगा. अलबत्ता अति-भावुकता से बचना बेहद जरूरी है. लोगों पर आसानी से भरोसा न करें. 2, 7, 11, 16, 20 और 25 के शुभ अंक हैं. नारंगी, पीला, सफेद रंग शुभ रहेगा. जबकि उत्तर दिशा खास तौर पर शुभदायक है. खाने-पीने की वस्तुओं में चावल, आटा, खीर का सेवन शुभ है.

5 सिंह
इस साल आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी किसी प्रकार की चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ेगा. हां स्वास्थ्य को लेकर सतर्कता रखना आवश्यक है. जैसे-जैसे साल आगे की ओर बढ़ेगा कि़स्मत तेज़ होती जाएगी. कम मेहनत से अधिक आमदनी होने लगेगी. काम धंधा करने वालों के लिए ये साल मुनाफ़ा कमाने वाला साबित हो सकता है. प्रॉपर्टी के बजाय शेयर बाज़ार में निवेश लाभदायक हो सकता है, जिससे अप्रत्याशित लाभ मिलने की संभावना है. हालाँकि इसके लिए इंतज़ार करना पड़ सकता है. वैवाहिक जीवन में तालमेल बनाकर रखना बहुत जरूरी है. जीवनसाथी की भावनाओं का आदर-सम्मान करें. छात्रों के लिए यह साल बेहतरीन साबित हो सकता है. इस समय बैंकिंग या प्रबंधन जैसे क्षेत्रों की पढ़ाई के लिए समय अनुकूल है. अगर आपने थोड़ी भी मेहनत की है तो उसका पूरा फल अवश्य मिलेगा. शिक्षकगण आपसे प्रसन्न रहेंगे और परीक्षा में सफलता मिलने के योग हैं. यह वर्ष नौकरीपेशा वालों के लिए भी शुभ होगा. इस राशि के लोग भले ही किसी भी क्षेत्र में कार्यरत क्यों न हों उन्हें सराहना, सहयोग और ऐसी ख़ुशी मिलने की संभावनाएँ बन रही हैं, जिनका वह काफ़ी समय से इंतज़ार कर रहे हैं.

सोचा हुआ काम बन जाने से मन प्रसन्न रहेगा. कोई विश्वासपात्र व्यक्ति ही आपके साथ विश्वासघात कर सकता है, अत: सावधानी रखना पड़ेगी. लंबी यात्राएँ आपके लिए लाभप्रद रह सकती हैं। विशेषत: महिलाओं के लिए यह वर्ष सफलताप्रद हो सकता है.समय अनुकूल है.
ये उपाय करें
सूर्योदय के समय सूर्य नमस्कार पिता को सम्मान दें. शनि की साढ़ेसाती या ढैया 26 जनवरी तक ही रहेगी.
इससे अचानक धन-लाभ, स्त्री-पुत्र से सुख, सम्पति लाभ और सेहत ठीक रहेगी. आत्मविश्वासी होना अच्छी बात है,लेकिन धैर्य बढ़ाना अति आवश्यक है. 1, 4, 10, 13, 19 और 22 शुभ अंक हैं. जबकि रंगों में नारंगी, पीला और लाल रंग शुभ है. उधर,दिशा में और खाने-पीने की वस्तुओं में गुड़, संतरा, रोटी, लाल मलका और लाल मिर्च शुभ रहेंगी.
6 कन्या
पैसे के निवेश को लेकर सतर्कता बरतने का साल है.साल की पहली छमाही के बजाय दूसरी छमाही हालात सुधरेगें. उस समय निवेश के बारे में सोचना अच्छा रहेगा.पैसों के मामले में सतर्कता रखें. छात्रों को मन शान्त रख ध्यानपूर्वक पढ़ाई करनी चाहिए. नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को काम धंधा मिलेगा. मीडिया और कला के क्षेत्र में संलग्र लोगों को लाभ मिलेगा. नौकरी में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी. साल के आखिरी में पदोन्नति के भी आसार रहेंगे. जीवनसाथी के लिए समय निकालें व मतभेद बातचीत से दूर करें. नए रिश्तों पर पहले ही दिन से भरोसा न करें. जो लोग पहले से प्रेम बंधन में हैं, उन्हें प्यार में सफलता मिल सकती है. हालाँकि पार्टनर शक और समय न दे पाने से रिश्ते खऱाब हो सकते हैं. इसलिए बेहतर है कि प्रेमी पर शक काफी समझदारी से ही करें. यात्राओं से लाभ प्राप्त होगा. व्यापार से जुड़े व्यक्तियों के लिए व्यवसाय संबंधित विदेश यात्रा होने का प्रबल योग बन रहा है. स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह न रहें. सात्विक भोजन और नियमित योग करने से परेशानियों से निजात मिल सकती है.
ये उपाय करें काँसे का कड़ा पहनें व बहिन, बेटी, बुआ व मौसी का सम्मान करें. कन्या राशि पर शनि की ढैया रहेगी. जिससे शारीरिक पीड़ा, रक्त विकार, परिवारिक कष्ट और व्यापार में हानि संभव है.इस लिए बहसबाजी में पड़े बगैर अपने काम करें. 5, 14, 23, 32, 41 और 50 का अंक शुभ रहेगा जबकि हरा और क्रीम रंग शुभ है.
दक्षिण दिशा की यात्रा विशेष रूप से शुभ है,जो नए अवसर लेकर आएगी. हरी मूँग और हरी सब्जिय़ाँ भी खाने की गृहजनित पीड़ा कम होगी.

7 तुला
आर्थिक दृष्टि से वर्ष अनुकूल रहेगा. शुरुआत में धन-प्राप्ति के योग हैं, पैतृक धन भी मिलेगा. नये कार्य में धन निवेश से लाभ प्राप्त होगा. वर्ष के अंत में बड़ा निवेश न करें. यदि निवेश करना पड़े तो बहुत सोच-विचार कर ही निर्णय लें. प्रॉपर्टी में निवेश से पहले किसी बड़े-बुज़ुर्ग की सलाह पर काम करें. शत्रुओं के लिए आप सिरदर्द बन सकते हैं. क़ारोबार में निवेश से पहले सोचे-समझें. दाम्पत्य जीवन में सामंजस्य रहेगा और यात्रा लाभप्रद रह सकती है. नौकरीपेशा के लिए साल सामान्य रहने वाला है. ऑफि़स में बॉस और सहकर्मियों का पूरा-पूरा साथ मिलने की संभावना है. नौकरी की तलाश में लगे हुए युवाओं को विशेष सफलता मिल सकती है. जबकि प्रोमोशन और सैलरी बढऩे के योग हैं. छात्रों को शिक्षकों और किसी बड़े का सहयोग मिल सकता है. प्रेम-संबंधों में सफलता मिलने की कोई उम्मीद नहीं है. अविवाहितों को अच्छे रिश्ते इंतज़ार करने से समय आने पर अच्छे रिश्ते अवश्य आयेंगे.

ये उपाय करें
कन्याओं को चॉकलेट,टॉफ़ी, सफ़ेद मिठाई बाँटें व पराई स्त्री के प्रति नजऱें साफ़ रखें. शनि की साढ़ेसाती 26 जनवरी तक ही रहेगी.जिससे व्यापार में प्रगति, सुख-सम्पत्ति का लाभ और घर में मंगलकार्य होंगे.
6, 15, 24, 33, 42, 51 और 60 शुभ अंक हैं.क्रीम, हरा, नीला और बैंगनी रंग शुभ होंगे.पश्चिम दिशा में किए जाने वाले कामों में विशेष रूप से सफलता मिलेगी. खाने-पीने की वस्तुओं में सफ़ेद व सुगंधित वस्तुएँ, गुलाब जल और इत्र का उपयोग करना चाहिए.

8 वृश्चिक
रुपए-पैसों में जितना कमायेंगे उससे अधिक खर्च करने का योग है. लेकिन आय के स्रोत बढ़ेंगे. शुभ कार्यों में आपकी दिलचस्पी रहेगी. मित्र से आर्थिक मदद मिल सकती है. स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और पराक्रम बढ़ेगा. जनसंपर्क में ज्यादा ही व्यस्तता रहेगी. नौकरीपेशा लोगों को विशेष सफलता मिल सकती है. ऑफि़स में किसी बड़े अधिकारी का सहयोग रहेगा. नये पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए समय अनुकूल है. किसी प्रतियोगी परीक्षा में सफल होने का योग है. आपका पारिवारिक जीवन इस वर्ष बेहतरीन रहने वाला है. इस साल भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा. नए मित्र बनेंगे. व्यापारियों की आमदनी बढ़ेगी उन्हें इस साल छोटे व्यवसाय से भी अच्छा मुनाफ़ा हो सकता है. विदेश यात्रा के योग कम बन रहे हैं, लेकिन व्यवसाय से संबंधित आपकी छोटी-मोटी यात्राएँ होती रहेंगी. जीवनशैली पर ध्यान देना चाहिए. हृदय और पेट संबंधी कुछ परेशानियाँ तंग कर सकती हैं, हालाँकि ये अल्पकालीन होंगी.
ये उपाय करें
लाल रंग के पौधे लगाकर उनकी देखभाल करें. साढ़ेसाती रहेगी जिससे व्यापार में प्रगति, सुख-संपदा लाभ और घर में मांगलिक कार्य होंगे. वाहन का प्रयोग कम करें व सेहत के प्रति सचेत रहें. बुरे व्यसनों से बचने की ज़रूरत है. 9, 18, 27, 36, 45, 54, 63, 72, 81 और 90 का अंक शुभ हैं. लाल, पीला, नारंगी, व सफ़ेद रंग शुभ है.उत्तर दिशा व खाने-पीने में लाल मलका, लाल मसूर,एवं गुड़ का उपयोग फायदेमंद रहेगा.

9 धनु
कारोबारी समाज के लिए ये साल फायदेमंद रहेगा.साल के अंतिम दिनों में सतर्क रहकर निवेश करें तो और भी फायदे के योग बनेंगे. वर्ष के अंत तक तमाम आथर््िाक समस्याओं का सवत: हल हो जाएगा. पैसों के लेन-देन में सावधानी रखें नौकरीपेशा लोगों के लिए भी साल बेहतरीन साबित हो सकता है उनके प्रमोशन के योग हैं. कार्यस्थल पर बॉस की शाबाशी मिलेगी और आय में बढ़ोत्तरी हो सकती है. आपके अच्छे प्रदर्शन का प्रभाव आपके करियर पर स्पष्ट रूप से दिखाई देगा.
माता-पिता के साथ संबंध अच्छे रहेंगे. सरकारी महकमे से लाभ मिलने की संभावना है, जिससे मान-सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी. प्रेम संबंधों के लिए यह वर्ष सामान्य रहेगा इस साल लव लाइफ़ में किसी बड़ी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. पेट की बीमारी होने की भी संभावना है, इसलिए आहार का ध्यान रखेंगे.
ये उपाय करें
आध्यात्मिक व सदाचार युक्त जीवन शैली अपनाने के साथ ही बड़ों का सम्मान करें.राशि पर शनि की साढ़ेसाती रहेगी. जिससे निजी जन से मनमुटाव, शत्रुओं की बढ़ोत्तरी, रोग कष्ट, गृह कलेश और धन हानि संभव है.
मानसिक व शारीरिक तनाव से बच कर रहें. 3, 12, 21 और 30 शुभ अंक हैं. लाल, पीला और नारंगी रंग शुभ होंगे. पूर्व दिशा का भ्र्रमण शुभ दायक है. खाने-पीने में हल्दी,अरहर या चना दाल, बूंदी लड्डू और केसर का प्रयोग बढ़ाना चाहिए.

10 मकर
इस समय बचाए गए पैसे ही आने वाले समय में काम आएंगे. सतर्कता के साथ पैसों का लेनदेन करें. व्यापारी वर्ग के लिए यह एक सफल साल साबित हो सकता है. पैतृक संपत्ति मिलने या लॉटरी आदि से अचानक धन लाभ के योग बने हुए हैं. यह वर्ष छात्रों के लिए ख़ास साबित हो सकता है। प्रतियोगी परीक्षा देने वाले छात्रों को सफलता मिल सकती है. नौकरीपेशा लोगों को काफ़ी अवसर मिलेंगे. प्रमोशन और अच्छी नौकरी के साथ आपको कार्य-स्थल पर पूरा सम्मान मिलने के आसार हैं. माता-पिता के साथ संबंध अच्छे रहेंगे.
आपके धार्मिक तीर्थ स्थलों के दर्शन के योग हैं. किसी के सामने अपने दिल की बात को रखने की कोशिश ज़रूर करें, लेकिन दबाव न डालें. समय के साथ हो सकता है दूसरी तरफ़ से भी हाँ सुनने को मिले. मानसिक तनाव से बचने के लिए आपको अधिक-से-अधिक ख़ुश रहने का प्रयास करना चाहिए. हरी पत्तेदार सब्जिय़ों का सेवन आपकी सेहत के लिए जड़ी-बूटी का काम कर सकता है.
ये उपाय करें
मांसाहार छोड़ कर भैरव की पूजा फायदेमंद रहेगी. शनि की साढ़े साती रहेगी. जिससे शारीरिक पीड़ा, रक्त विकार और व्यापार में हानि हो सकती है. तनाव से बचना जरूरी है. 4, 8,13, 17, 19, 22 और 26 शुभ अंक हैं. नीला, हरा, बैंगनी और काला रंग शुभ है. जबकि दिशाओं में दक्षिण दिशा शुभ है.खाने-पीने की वस्तुओं में काली उड़द, काले तिल और काले चने का प्रयोग करना शुभ है.

11 कुम्भ
विरोधी पक्ष समझौते के लिए लालायित रहेगा. आर्थिक स्थिति सामान्य रहेगी. दूसरों की मदद से पहले अपनी आर्थिक स्थिति पर विचार करना जरूरी होगा. फिज़़ूलख़र्ची से बचें ताकि भविष्य में दिक्कत न हो .6 माह बाद पैसों के लेन-देन के प्रति सजग रहना होगा.
प्रॉपर्टी के कार्यों में सफलता मिलेगी. व्यापारियों और बिजऩेस से जुड़े लोगों के लिए यह वर्ष उत्तम साबित हो सकता है. पार्टनरशिप के काम में ईमानदारी बरतें . नौकरी से संबंधित किसी भी मामले में यह वर्ष आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है.इसमें तरक्की के योग हैं, इसलिए मेहनत करते रहें और निराश न हों. करियर में अच्छी शुरुआत मिलने की संभावना है. क़ानून, चिकित्सा, वाणिज्य आदि क्षेत्रों से जुड़े लोगों के लिए समय अनुकूल रहेगा.
आपसी रिश्तों को मधुर बनाए रखने के लिए ज़रूरी है कि आप तालमेल बनाकर चलें. इस वर्ष माँ के साथ आपके संबंध विशेषत: अच्छे रहेंगे. दैनिक जीवन में अत्यधिक व्यस्त होने के कारण आप जीवनसाथी को अधिक समय नहीं दे पाएंगे; यह बात आपके रिश्तों में खटास डाल सकती है.
ये उपाय करें
गलत कार्य व अन्याय करने से बचते हुए गरीबों का सहयोग करें. शुभ अंक 4, 8,13,17, 22 और 26,जबकि
शुभ रंग नीला, हरा, बैंगनी और काला है. पश्चिम दिशा शुभ है.
12 मीन
काम-काज के वक्त अपनी क्षमता से बढक़र कोई काम न करें व हर निर्णय सोच समझ कर ही लें. किसी अपरिचित पर एकदम से भरोसा न करें. 6 माह बाद आय के नए स्रोत मिलने की संभावना है. अपने विरोधी पक्ष पर हावी रहेंगे. प्रगति का रहस्य सहयोगी वर्ग को न बताएं. अपने दोस्तों या रिश्तेदारों की अच्छे व नए लोगों से मिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका होगी. मेहनत से शुरू हुआ काम अंजाम तक पहुंचेगा. पुरस्कार भी इस साल संभावित है. नई तकनीक या विधा सीखने का प्रयास कर सकते हैं. जब तक आपको नई नौकरी न मिले पुरानी नौकरी से इस्तीफ ा देने के बारे में न सोचें. ऐसा करने से आपको अगली नौकरी के लिए लंबा इंतज़ार करना पड़ सकता है.
ये उपाय करें
गरीब कन्या का कन्यादान के साथ धार्मिक कार्यो में पैसा खर्च करना चाहिए न्यायशील व अच्छी सोच की वजह से कई सारे काम बनेंगे. 3, 7, 12, 16, 21, 25, 30, 34, 43 और 52 शुभ अंक हैं. जबकि पीला, सफेद और लाल रंग शुभ है. उत्तर दिशा की यात्रा शुभ है.उधर, खाने-पीने में हल्दी, केसर, व चने की दाल का प्रयोग श्रेष्ठ रहेगा.